कोरोना की रोकथाम के लिए पीआईएमएस में ओपीडी तथा आईसोलेशन वार्ड की स्थापना

उदयपुर। पूरे विश्व में तेजी से फैल रहा कोराना वायरस भारत में भी पांव पसार रहा है। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने हर संभव कदम उठाये हैं और राज्य और जिला स्तरीय कमेटियां गठित की गई हैं। इसी क्रम में पेसिफिक इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (पीआईएमस) उमरड़ा में ओपीडी व आईसोलेशन वार्ड की स्थापना की गई।
इस वायरस से बचाव व रोकथाम के लिए सभी नर्सिंग स्टाफ, डॉक्टर्स व अन्य कर्मचारियों को स्पीकर डॉ. राजेन्द्रकुमार सामर (मेडिसिन), डॉ. सोम्या सिंह (माइक्रोबायोलॉजी) तथा डॉ. दिलीप पारीक (कम्युनिटी मेडिसिन) ने कोरोना वायरस की रोकथाव व बचाव के तरीकों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस वायरस से बचने के लिए बार-बार हाथ धोएं, भीड़ भाड़ वाली जगह पर जाने से बचे, बात करते समय कम से कम एक मीटर की दूरी बनाये रखें, छींक आने पर टिश्यू पेपर या कोहनी का इस्तेमाल करें, बार-बार नाक, आंख व मुंह को न छुए, मास्क का प्रयोग करें, सेनेटाईजर का प्रयोग करें। इस दौरान चिकित्सकों ने इस वायरस के लक्षण व संक्रमित व्यक्ति के वाइटल्स में होने वाले बदलावों की भी जानकारी दी।
प्रिंसिपल डॉ. बी. एल. कुमार ने बताया कि पीआईएमएस ने संक्रमण की गंभीरतो को समझते हुए बहुत जल्दी एक्शन लिया और एक विशेष ओपीडी व आईसोलेशन वार्ड की स्थापना की और कर्मचारियों को रोकथाम के तरीकों की जानकारी दी।

Related posts:

Hindustan Zinc amongst Top 3 companies with a score in the ‘600+ Band Barrier’ on a CII Assessment
ग्रामीण सखी महिलाओं के बने उत्पाद “दाईची” अब उदयपुर के माॅल में भी उपलब्ध
राज्य सरकार की मेवाड़ को सौगात
जगदगुरु शंकराचार्य के सान्निध्य में 54 कुण्डीय मां बगलामुखी आराधना महायज्ञ की पूर्णाहुति
Nuvoco launches Concreto Green – a High Performance Cement Uses up to 25% less water; enhancing sust...
नारायण सेवा में स्वतंत्रता दिवस
Limelight’s CVD Diamond Jewellery Now Available at Pristine Diamonds, Udaipur
यह बोलने का समय, बोलना होगा और खतरे भी उठाने होंगे
सिग्निफाई ने राजस्‍थान में 20 प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों को रौशन करने के लिये फिनिश सोसायटी के स...
गीतांजली में कुष्ठ रोगियों हेतु रि-कन्स्टेªक्टिव सर्जरी कैम्प आयोजित
जाग्रत हनुमानजी को धराया छप्पन भोग
आवासीय विद्यालय एवं नारायण चिल्ड्रन एकेडमी में शिक्षकों का सम्मान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *