एमवे इंडिया ने नारी शक्ति परियोजना लॉन्च के साथ उद्यमिता की भावना को बढ़ावा दिया

उदयपुर। महिलाओं को आगे लाकर उन्हें सशक्त बनाने के लिए प्रतिबद्ध और देश में गिग इकोनॉमी इकोसिस्टम को मजबूत करने की दिशा में प्रमुख कदम के रूप में देश की अग्रणी एफएमसीजी डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों में से एक एमवे इंडिया ने ‘नारी शक्ति’ परियोजना लॉन्च की। अपनी 10-वर्षीय विकास दृष्टि के हिस्से के रूप में एमवे का उद्देश्य महिलाओं को सशक्त बना कर फिटनेस, स्वस्थ जीवन, पाक कला या सुंदरता संबंधी अपने जुनून को जीने के दौरान खुद का व्यवसाय संचालित करने का अवसर प्रदान करना है। पूर्वी क्षेत्र से शुरू होकर नारी शक्ति परियोजना एमवे के मौजूदा वूमेन डायरेक्ट सेलर्स के मौजूदा समूह को अपने स्वतंत्र एमवे व्यवसायों को सफलतापूर्वक चलाने के लिए उनके मौजूदा कौशल को निखारकर आगे लाने पर लक्षित है।
एमवे इंडिया के सीईओअंशु बुधराजा ने कहा कि वर्तमान स्वास्थ्य संकट ने नौकरियों के संदर्भ में बढ़ती अनिश्चितता के कारण गिग इकोनॉमी इकोसिस्टम में लचीली भूमिकाओं की स्वीकार्यता को बढ़ा दिया है। महिलाएं वर्तमान सामाजिक-आर्थिक परिदृश्य को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं और एमवे महिलाओं के उत्थान की दिशा में काम करते हुए लंबे समय से समान अवसर मुहैया करा सहयोग प्रदान कर रहा है। महिला उद्यमी भविष्य के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हैं और हम विकास के माहौल को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध हैं। हम महिलाओं को उनकी पूरी क्षमता का अहसास कराने के लिए अवसर प्रदान करते हैं। 60 प्रतिशत से भी अधिक डायरेक्ट सेलर्स महिलाएं हमारी प्रतिबद्धता का प्रमाण है। एमवे ने चुनिंदा महिला उद्यमियों के समूहों के साथ विभिन्न सत्रों के आयोजन की योजना बनाई है, जो उनके विभिन्न कौशल को बढ़ाने, सर्वोत्तम व्यावसायिक प्रथाओं, उत्पाद प्रशिक्षणों और विभिन्न व्यावसायिक उपकरणों एवं सामाजिक वाणिज्य के उपयोग के बारे में जानकारी प्रदान करने पर लक्षित हैं। इन महिलाओं को प्रमुख वरिष्ठ महिला उद्यमियों द्वारा सलाह दी जाएगी जो एमवे इंडिया के साथ अपने सफर के दौरान उनका मार्गदर्शन करेंगी। यह परियोजना वर्तमान परिवेश में सामाजिक बिक्री के महत्व पर भी जोर देती है और व्यवसायों को बनाए रखने तथाडायरेक्ट सेलिंग के पारंपरिक तरीकों से आगे बढऩे के लिए डिजिटल माध्यम कोतेजी से अपनाए जाने पर प्रकाश डालती है।
परियोजना को विभिन्न उद्योगों में महिलाओं की बढ़ती भूमिका के विषय पर एक पैनल चर्चा के साथ शुरू किया गया। यह चर्चा वर्तमान परिदृश्य के चलते गिग इकोनोमी के उदय और देश में महिला उद्यमिता के भविष्य को मजबूत करने पर केंद्रित थी। इस वर्चुअल पैनल चर्चा में सफल फैशन डिजाइनर और पुरस्कार विजेता जानी-मानी वक्ता सुश्री बृंदा, जिन्हें अपनी विशेषज्ञता के क्षेत्र में 6 से अधिक वर्षों का व्यापक अनुभव है, सशस्त्र बलों से सेवानिवृत्त अधिकारी एवं रीटा गंगवानी जहाउस ऑफ पर्सनैलिटी ट्रांसफॉर्मेशन की संस्थापक सुश्री रीटा गंगवानी, एमवे इंडिया में वाइस-प्रेसिडेंट फॉर कंटेंट मार्केटिंग एंड कम्युनिकेशंस, पीआर, सोशल मीडिया और सीएसआर सुश्री सिमरत बिश्नोई और एमवे इंडिया में ब्यूटी, पर्सनल केयर एंड कम्युनिटीज की वाइस प्रेसिडेंट सुश्री अनिशा शर्मा ने हिस्सा लिया।

Related posts:

Switch to solar, will be cost-effective: Gadkari to MSMEs
हिन्दुस्तान जिंक ने मनाया 50वां राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस
सीवरेज के पानी को उपचारित कर दुबारा उपयोग में लाकर लाखों लीटर पानी बचा रहा है हिन्दुस्तान जिंक
एचडीएफसी बैंक में गोल्ड लोन शाखा का शुभारंभ
दरीबा स्मेल्टिंग कॉम्प्लेक्स को ब्रिटिश सेफ्टी काउंसिल द्वारा फाइव-स्टार रेटिंग
उदयपुर में टोयोटा किर्लोसकर मोटर ऑल न्यू अर्बन क्रूजर टाइजर लॉन्च
जॉन हॉपकिंस-सीसीपी ने बर्नार्ड वान लीयर फाउंडेशन के सहयोग से उदयपुर में सामाजिक एवं व्यवहारगत बदलावो...
हिन्दुस्तान जिंक की समाधान परियोजना कोरोना संकट में किसानों को पहुंचा रही लाभ
Hindustan Zinc inaugurates ‘Hindustan Zinc Mining Academy’ at Zawar
हिंदुस्तान जिंक के सीईओ अरूण मिश्रा ने केयर्न पिंक सिटी हाफ मैराथन में लिया हिस्सा, एक घंटा बीस मिनट...
राजस्थान फुटबॉल एसोसिएशन द्वारा देबारी में राज्य अंडर-17 बालिका शिविर का सफल आयोजन
वेदांता द्वारा उपलब्ध प्राथमिक सेवाओं से राज्य के 6 जिलों के ग्रामीण लाभान्वित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *