हिन्दुस्तान जिंक द्वारा बिछड़ी में किसान सम्मेलन आयोजित

उदयपुर। हिंदुस्तान जिंक द्वारा बिछड़ी गांव में हिंदुस्तान जिंक एवं बायफ संस्थान के संयुक्त तत्वाधान में समाधान परियोजना के तहत किसान सम्मेलन आयोजित किया गया।
सम्मेलन में देबारी के निदेशक लीलाधर पाटीदार ने कहा कि समय के साथ किसान पारंपरिक खेती को बदलें जिससे उनकी आमदनी में बढ़ोतरी हो सके। किसान सब्जियों फलों की खेती करें जिससे उनकी आय बढ़ सके। कार्यक्रम में महाराणा भूपाल एग्रीकल्चर कॉलेज के वैज्ञानिक कपिला आमेटा ने कहा कि खेती के बारे में कोई भी कितनी ही जानकारी दे दे लेकिन जब तक किसानों की भागीदारी नहीं होगी, किसान आगे नहीं बढ़ पाएगा। किसानों ने गेहूं मक्का बोने का जो मानस बना रखा है उसे समय के साथ बदल कर अन्य उत्पादनो की खेती करें। अधिक उत्पादन के लिए अच्छे बीज एवं जैविक खाद का उपयोग करें। कार्यक्रम में खेती में अच्छे कार्य करने वाले किसानों को कृषि उपकरण देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर देबारी स्मेल्टर के सीएसआर से अधिकारी शिव भगवान, बायफ संस्थान के संकुल प्रभारी रसिक भाई पटेल, डॉ नारायणलाल पटेल, कृषि पर्यवेक्षक प्रेमशंकर पालीवाल, सरपंच धर्मीबाई गमेती, चुन्नीलाल डांगी, भेरूलाल डांगी सहित 60 से अधिक किसान उपस्थित थे।

Related posts:

वाडीलाल का इस वर्ष 800 करोड़ की आइसक्रीम बिक्री का लक्ष्य
कोनार्क, यूपी, वंडर तथा काठमांडू की टीमें सेमीफाइनल में पहुंची
पिम्स, उमरड़ा द्वारा प्राथमिक चिकित्सा पर कार्यशालाओं का आयोजन
Inspiring journeys of Bharat's entrepreneurs thriving on Flipkart
G.R. Infraprojects’ longassociation with Tata Motors reaping mutual benefits for the companies
स्टार एग्री  एवं एग्रीबाज़ार का सीएसआर कार्यक्रम के तहत 2 करोड़ रूपए का योगदान
हिंदुस्तान जिंक को ईएसजी रिस्क द्वारा ‘ईएसजी इंडिया लीडरशिप अवार्ड‘
आरएलडीए ने राजस्थान में रेलवे भूमि के पुनर्विकास योजना पर स्टेकहोल्डर्स के साथ की चर्चा
आठ करोड़ की लागत से बनने वाली टंकी के निर्माण का शुभारंभ
कोटक महिन्द्रा बैंक का मल्टीमीडिया मार्केटिंग कैम्पेन
Flipkart fosters a sustainable value chain to drive responsible consumption during the Festive Seaso...
अल्ट्राटेक सीमेंट द्वारा उत्पादन क्षमता में 12.8 मिलियन टन सालाना विस्तार के लिए 5477 करोड़ रुपए के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *