नारायण सेवा संस्थान का विशाखापट्टनम में आर्टिफिशियल लिम्ब शिविर, 450 दिव्यांगों का लिया मेजरमेंट

उदयपुर। नारायण सेवा संस्थान, उदयपुर द्वारा विशाखापट्टनम के विश्वनाद कंवेशन, पोर्ट स्टेडियम में नि:शुल्क ऑपरेशन जांच-चयन और कृत्रिम अंग व केलिपर्स माप केम्प आयोजित हुआ। शिविर में पूर्व विधायक विष्णु कुमार राजू, गीतम यूनिवर्सिटी चैयरमेन भरत कुमार,राष्ट्रीय स्वयं सेवक के वेंकेट रमणा ने दीप प्रज्ज्वलित कर उद्घाटन किया। मुख्य अतिथि ने कहां विशाखापट्टनम के दिव्यागों के हितार्थ सेवा के कार्यों के लिए हर सम्भव मदद की जायेगी। मैं संस्थापक कैलाश मानव व अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल का अभिनंदन करते हुए धन्यवाद करता हूँ।
प्रारम्भ में महागंगोत्री ग्रुप हेड रजत गौड़ ने मुख्य अतिथि और मंचासीन विशिष्ट अतिथियों का मेवाड़ की परंपरा अनुसार अभिनंदन किया । संस्थान की 39 वर्षीय सेवाओं की जानकारी देते हुए आगामी 5 वर्ष का विजन प्रस्तुत किया। शिविर में स्थानीय 25 से ज्यादा समाजसेवी और धार्मिक संगठन स्वयंसेवी के रूप में जुड़ कर सेवाएं दी।
महागंगौत्री हेड गौड़ ने शिविर की रिपोर्ट बताते हुए कहा शिविर में 700 से अधिक दिव्यांग आए जिन्हें संस्थान पीएंडओ डॉ. अंकिता एवं डॉ. रामनाथ ठाकुर की टीम ने पूर्ण मनोयोग से देखा और 390 दिव्यांगों का नारायण आर्टिफिशियल लिंब और 28 जन का केलिपर्स लगाने के लिए मेजरमेंट लिया। करीब 50 से ज्यादा दिव्यांग रोगियों का चयन शल्य चिकित्सा हेतु भी किया। जिनका उदयपुर ले जाकर नि:शुल्क ऑपरेशन होगा। शिविर में हैदराबाद,झारखंड़ तिरुपति, विजयनगर से भी रोगी पहुंचे। इस शिविर में संस्थान की 30 सदस्यीय टीम ने सेवाएं दी।

Related posts:

Jaguar Land Rover announces their annual Holiday Service Camp, exclusively for its customers
सघन वृक्षारोपण, स्वच्छ एवं संरक्षित पर्यावरण के संकल्प के साथ हिन्दुस्तान जिंक में विश्व पर्यावरण दि...
HDFC Bank Limited FINANCIAL RESULTS (INDIAN GAAP) FOR THE QUARTERAND HALF YEAR ENDED SEPTEMBER 30, 2...
योग क्रिया से शरीर की कार्यक्षमता को बढ़ाया जा सकता है - डाॅ. कर्नाटक
गुमनाम शहीदों के नाम कपड़े की पट्टी पर उकेरकर रिकॉर्ड बनाये
महिला दुग्ध किसानों ने आईडीएफ वल्र्ड डेयरी समिट 2022 में अपनी शक्ति दिखाई
25 महिलाओं को जीविकोपार्जन हेतु पॉल्ट्री यूनिट वितरित
हिंदुस्तान जिंक की मेजबानी में 51वीं अखिल भारतीय खनन बचाव प्रतियोगिता का आगाज़
योग केवल आंतरिक पूर्णता ही नहीं अपितु पंच तत्वों के संतुलन की क्रिया भी :  प्रो. सारंगदेवोत
जीएनएम तृतीय वर्ष एवं बीएससी नर्सिंग चतुर्थ वर्ष के छात्र छात्राओं का विदाई समारोह 
जार द्वारा कोरोना हेल्पिंग ग्रुप को इक्‍कीस हजार एक सौ इक्‍कीस रूपये की राशि भेंट
पिम्स मेवाड़ कप क्रिकेट : स्पार्टन जोधपुर और मेवाड ट्यूरिज्म क्लब दूसरे चरण में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *