नसों की गंभीर बीमारी का सफल उपचार

उदयपुर। पेसिफिक इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (पीआईएमएस), उमरड़ा में चिकित्सकों ने एक मरीज की नसों में हुई गंभीर बीमारी का सफल उपचार भामाशाह योजना के अन्तर्गत पूर्णतया नि:शुल्क किया है।
पीआईएमएस के चेयरमेन आशीष अग्रवाल ने बताया कि गत दिनों जमनीदेवी को चारों हाथों व पेट की कमजोरी एवं सांस की दिक्कत के चलते पीआईएमएस लाया गया। यहां चिकित्सकों ने उसकी गम्भीर स्थिति को देखते हुए इमरजेंसी में उसे वेन्टीलेटर पर लिया। इसके बाद न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. राजेश खोईवाल एवं उनकी टीम ने मरीज का परीक्षण किया जिसमें सामने आया कि मरीज को गिल्लन बर्रे सिंड्रोम (जी.बी.एस.) नामक बीमारी है। इस बीमारी के उपचार का खर्च अधिक होने से मरीज का सम्पूर्ण ईलाज भामाशाह योजना के अन्तर्गत नि:शुल्क किया गया। मरीज को कुछ समय तक आईसीयू में रखा गया जिससे उसकी हालत में सुधार होने लगा जिस पर उसे वार्ड में शिफ्ट किया गया। पूर्णतया स्वस्थ होने पर मरीज को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया गया।

Related posts:

NIUA and BvLF launch Infant, Toddler and Caregiver-Friendly Neighbourhoods Training & Capacity Build...
नगर निगम द्वारा तुलसी निकेतन की सीज हुई दुकानें राज्य सरकार के आदेश से सीज मुक्त
हम हैं भारत के भाग्य विधाता
Show-Stopping Forevermark Diamond Jewellery Shines in Hollywood
पिम्स में पांच माह की बच्ची की सफल सर्जरी
दुर्लभ द्विलिंगीय नवजात को पीआईएमएस उमरड़ा में मिली राहत
विश्व में टेक्नोलॉजी गियर आपूर्तिकर्ता के तौर पर भारत चीन का स्थान ले सकता है
श्रीमाली समाज की क्रिकेट प्रतियोगिता में क्षेत्रपाल टीम बनी चैम्पियन
एमबी हॉस्पिटल की कायाकल्प के लिए संभागीय आयुक्त राजेन्द्र भट्ट फिर दिखे एक्शन मोड में
नारायण सेवा संस्थान का गुवाहाटी में पहला लिम्ब शिविर 
हिन्दुस्तान जिंक के शिक्षा संबल कार्यक्रम में इस वर्ष लाभान्वित हो रहे 1500 विद्यार्थी
एमपीयूएटी के दीक्षांत समारोह में राज्यपाल मिश्र देंगे 42 स्वर्ण पदक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *