श्री सीमेंट की पहल – “नमन” योजना में आर्म्ड फोर्स के शहीद सैनिकों के परिवारों को घर बनाने के लिए मिलेगा मुफ्त सीमेंट

उदयपुर। देश की सुप्रसिद्ध सीमेंट कंपनी श्री सीमेंट की अनोखी सेवा पहल का लेफ्टिनेंट जनरल आलोक क्लेर, पीवीएसएम, वीएसएम, जीओसी-इन-सी, दक्षिणी पश्चिमी कमान, भारतीय सेना, ने औपचारिक रूप से “प्रोजेक्ट नमन” का उद्घाटन किया। यह परियोजना श्री सीमेंट की एक राष्ट्रीय पहल है, जिसके जरिये भारतीय आर्म्ड फोर्स के परिवारों को मुफ्त सीमेंट प्रदान किया जायेगा। पिछले 20 वर्षों में आर्म्ड फोर्स में देश की सेवा के दौरान शहीद हुए सैनिकों के परिवारों को इस योजना का लाभ मिलेगा। विजय दिवस के रूप में नमन परियोजना का लोकार्पण किया गया, जो 1971 के बांग्लादेश युद्ध में भारत को जीत दिलाने एवं भारतीय सैनिकों के बलिदान को याद करने के लिए 16 दिसंबर को हर साल मनाया जाता है।


नमन योजना के तहत, 1 जनवरी 1999 से लेकर 1 जनवरी 2019 (20 वर्ष) के बीच देश के लिए शहीद हुए शहीद जवानों के एक परिजन को, अपनी जमीन पर 4 हजार वर्गफुट तक का घर बनाने के लिए मुफ्त सीमेंट प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत शहीदों के परिवार के सदस्य पूरे देश में फैले किसी भी श्री सीमेंट की उत्पादन इकाई से मुफ्त में सीमेंट प्राप्त कर सकते हैं।


‘नमन’ प्रोजेक्ट कार्यक्रम के उद्घाटन के मौके पर भारतीय सेना के दक्षिणी पश्चिमी कमान के जीओसी-इन-सी, लेफ्टिनेंट जनरल आलोक क्लेर ने कहा कि श्री सीमेंट द्वारा अपने सेवामूलक कार्यों का विस्तार करने के लिए इनके अधिकारियों का यह एक अद्भुत प्रयास है। हमारे देश के वीर शहीदों जिन्होंने देश की सेवा में अपनी जान बलिदान कर दिया है, उन्हें इस तरह का सम्मान प्रदान करना काफी दुर्लभ और अनोखा प्रयास है। सच्चे अर्थों में इस सेवा मूलक कार्यों के जरिये हमारे शहीदों के कल्याण के लिए सेना के इतिहास में कंपनी ने एक अलग जगह बनाई है। उन्होंने कहा कि सेना के लिए और भी बहुत कुछ करने की जरूरत है, क्योंकि हमारे जवानों ने अपनी पूरी ज़िंदगी अपनी ड्यूटी समझ देश की सेवा में लगा दिया। मुझे पूरी उम्मीद है कि इस तरह के सेवामूलक कार्य को देख दूसरे कॉरपोरेट्स कंपनी के अधिकारी भी इस तरह के सेवामूलक कार्य के लिए आगे आयेंगे।


श्री सीमेंट के संयुक्त प्रबंध निदेशक प्रशांत बांगड़ ने कहा कि  घर बनाने के लिए उच्च क्वालिटी के सीमेंट की सबसे ज्यादा जरुरत होती है, इसलिए हमें लगा कि नमन योजना शहीदों के परिवारों की आवास जरूरतों को पूरा करने के लिए बेहद मददगार साबित होगा। हमारे लिए हमारे सैनिकों के परिवारों के लिए यह विनम्र योगदान बहुत ही सम्मान की बात है, जो सेवा के आह्वान से ऊपर उठे और मातृभूमि के लिए अपना जीवन लगा दिया। हम अपने राष्ट्र के शहीदों को सलाम करते हैं। मैं इस अवसर पर देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह जी को इस योजना को लागू करने में उनके मार्गदर्शन और समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं।


इस योजना को केंद्रीय सैनिक बोर्ड और राज्य सैनिक बोर्ड (आरएसबीएस) और जिला सैनिक बोर्ड (जेडएसबी), रक्षा मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा क्रियान्वित किया जाएगा। इस मौके पर शहीद परिवार की सदस्य श्रीमती सुनीता देवी और श्रीमती सुदेश को नमन प्रोजेक्ट के तहत श्री सीमेंट की तरफ से संजय मोहता (अध्यक्ष,वाणिज्यिक, एवं चीफ हैप्पिनेश ऑफिसर) और अरविंद खिचा (अध्यक्ष, वाणिज्यिक) श्री सीमेंट लिमिटेड की मौजूदगी में जीओसी-इन-सी, लेफ्टिनेंट जनरल आलोक क्लेर ने सीमेंट का रिलीज ऑर्डर सौंपा।

Related posts:

एचडीएफसी बैंक ने साइबर धोखाधड़ी जागरूकता कार्यशालाएं आयोजित की
यूसीसीआई एक्सीलेन्स अवार्ड में आवेदन की तिथि 10 फरवरी तक
आईपीएल में कोलगेट 6 टीमों का ऑफिशियल स्माईल पार्टनर
उदयपुर में एचडीएफसी बैंक की नई शाखा का शुभारंभ
बच्चों के टीकाकरण में देरी न करें
NAND GHAR CONFERRED WITH BEST CORPORATE SOCIAL RESPONSIBILITY INITIATIVE BY RAJASTHAN GOVERNMENT
नेस्ले इंडिया ने मैगी स्पाइन प्लान के माध्यम से भारत के मसाला किसानों को मदद करने की शपथ ली
Indira IVFcrosses key milestone of 75000 successful IVF pregnancies
जिंक की कायड़ माइंस को गोल्डन पीकाॅक एनवायरमेंट अवार्ड
एचडीएफसी बैंक किसानों तक पहुंचने के लिए भारत सरकार के ई-एनएएम के साथ एकीकृत
RapiPay bridging the ATMs gap in the country with AePS and Micro ATM services
फसल उत्पादकता एवं मिट्टी के स्वास्थ्य पर जिंक के प्रभावों के अध्ययन के लिए इंटरनेशनल जि़ंक एसोसिएशन ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *