सॉल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इण्डिया की 51वीं एजीएम और अवॉर्ड समारोह

आगामी 25 वर्ष तक तेल का बाजार अच्छा रहेगा – सुधाशुं पाण्डेय
उदयपुर।
सॉल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इण्डिया एसईए की सम्पन्न हुई एजीएम के दौरान हुए विशेषज्ञो के पैनल डिस्कशन में एक बात उभर कर सामने आई कि इस बार मानसून के मेहरबान रहने से खरीफ में तिलहनी फसलों की बम्पर पैदावार की उम्मीद है। खासकर सरसों की फसल काफी अच्छी होगी। एजीएम में किसानों के हित और फसलों के सुधार के लिए मिलेजुले प्रयासों पर जोर दिया गया। एसईए के सभी पदाधिकारियों ने फ्यूचर कारोबार को फिर से शुरू करने पर जोर देते हुए कहा कि इसका उपयोग और कई अन्य लाभों की सहजता के कारण यह कारोबार कई कारोबारियों के लिए डिफॉल्ट कारोबारी विधि है।
मुख्य वक्ता केन्द्रीय वाणिज्य मंत्रालय खाद्य सचिव सुधाशुं पाण्डेय ने कहा कि चीन के बाद भारत आबादी के मामले में दूसरे स्थान पर है जिस प्रकार आबादी का विस्तार हो रहा है तो यह जरूरी है कि आगामी 25 वर्ष के बाद आबादी के अनुपात में प्रत्येक खाद्य वस्तुओं की मांग बढ़ेगी। इसलिए सभी उत्पादकों को उसी अनुपात में अपने उत्पादो को और गति देनी होगी।
भारत 60 फीसदी से ज्यादा खाद्य तेल आयात करता है। बीते कुछ माह में रूस और यूक्रेन के बीच चल रही जंग के अलावा इंडोनेशिया द्वारा निर्यात पर पाबंदी से आयात प्रभावित हुई है। इस वजह से वैश्विक के साथ घरेलू बाजार में भी खाने के तेल की कीमतों में बढ़ोतरी देखने को मिली थी। हालांकि, सरकार ने पिछले साल कीमतों में कटौती को लेकर कई अहम फैसले भी लिए थे। सरकार के कदमों से भले ही तेल की कीमतों में गिरावट देखने को मिल रही हो, लेकिन ये अभी भी महंगे स्तरों पर ही हैं।
समिट के दौरा सॉल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इण्डिया के निवर्तमान अध्यक्ष अतुल चतुर्वेदी ने अपना पदभार नवनियुक्त अध्यक्ष अजय झुनझुनवाला को सौंपा। सत्र की शुरूआत में डॉमेस्टिक खरीफ ऑयलसीड क्रॉप सिचुएशन एण्ड प्राइस आउटलुक विषय पर पैनल डिस्कशन के साथ हुई। इसमें इस जगत के निश्नात विशेषज्ञों ने भाग लिया, जिनमें एसईए के निवर्तमान अध्यक्ष अतुल चतुर्वेदी, पतंजलि फूड लि. के सी संजीव अस्थाना, जेमिनी ईडी एण्ड फैट्स के प्रदीप चौधरी, विजय सॉल्वेंट के विजय डाटा, सहित अन्य विशेषज्ञ वक्ता नागराज मीडा, नीरव देसाई, सहित अन्य वक्ताओ ने शिरकत की। इस डिस्कशन के मॉडरेटर जी टीवी बिजनेस के कमोडिटी एडिटर मृत्युंजय झा रहे। संचार मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव पार्थ एस. दास ने मंचस्थ अतिथियों का आभार व्यक्त किया।
सोमालाल व्यास एसईए इनोवेशन अवॉड्र्स
रिसर्च साइन्टिस्ट्स, एकेडियमिन्स, एफपीओ: डॉ. संदीपकुमार बेरा, डॉ. मकरंद मुकुन्द दीक्षित, डॉ. उदय एस. अन्नापुरे, डॉ. लक्ष्मीकांत शिवनाथ बाडविक। इसी की द्वितीय श्रेणी में सुश्री मोनालिसा पटनायक, मिस ओलिवा घारा, सचिन रामदास अडसारे को को प्रशस्ति पत्र तथा 75 हजार, 50 हजार तथा 25 हजार रुपए नकद पुरस्कार स्वरूप प्रदान किए गए।
श्री गोविन्द भाई मेमोरियल अवॉड्र्स
दोराब मिस्त्री, मृत्युंजयकुमार झा, को ऑयल सीड डेवलपमेंट अवॉर्ड, शतद्रु चट्टोपाध्याय, डॉ. सुरेश मोटवानी, सोलिडीडाट एशिया को ऑयल सीड डेवलपमेंट अवॉर्ड प्रदान किया गया। इसके अलावा बीस से अधिक प्रोसेसर्स एवं एक्पोर्टस को भी स्पेशल अवॉड्र्स से नवाजा गया।

Related posts:

भारतीय रिटेल की अग्रणी कंपनी नेक्सस मॉल्स ने पेश की अपनी नई ब्रांड पहचान
कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय ने जिला कौशल समितियों को मजबूत करने और समावेशी विकास को बढ़ावा देन...
हैंड वाशिंग डे पर हिन्दुस्तान जिंक ने दिया स्वच्छता से निरोगी रहने का संदेश
RBL Bank and ICICI Prudential Life Insurance forge Bancassurance Partnership
Pepsi launches new campaign
HDFC Bank Parivartan launches #EnginesOffcampaign in 40 cities
भारत की पहली 6-सीटर इंटरनेट एसयूवी हेक्टर प्लस लॉन्च
Union Retirement Fund launch
एचडीएफसी बैंक ने ‘फेस्टिव ट्रीट्स 2.0’ ग्रामीण भारत के 1.2 लाख वीएलई तक पहुंचाईं
Integra Telecommunication & Software to Launch Sports (Cricket) Software Would benefit substantially
हिमालया ने एंटी हेयर फॉल शैंपू के लिए ‘‘हेयर फॉल नहीं, अब सिर्फ जिंदगी मेरी मुट्ठी में’’ अभियान लॉन्...
कैंसर से बचाव हेतु जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *