वेदांता के बाल्को मेडिकल सेंटर ने कैंसर मुक्त भारत के लिए विजन तैयार किया

उदयपुर। 4 फरवरी, 2020 (विश्व कैंसर दिवस) तक, वेदांता मेडिकल रिसर्च फाउंडेशन (वीएमआरएफ) के बाल्को मेडिकल सेंटर, जो कि छत्तीसगढ़ के रायपुर में एक अत्याधुनिक 170-बेड का अल्ट्रा-मॉडर्न, मल्टी-मॉडर्निड डायग्नोस्टिक  चिकित्सीय सुविधा अस्पताल है, वहां 6500 रोगियों का उपचार किया गया है। 2018 मेंं इसकी शुरुआत से अब तक ओपीडी में 25,000 से अधिक की रोगी आए हैं। 

अपनी स्थापना के बाद से बहुत कम समय में, बीएमसी ने जागरूकता सृजन, परामर्श, स्क्रीनिंग और उपचार के लिए मार्ग प्रदान करके हजारों लोगों के जीवन में एक खास मुकाम बना लिया है। आरंभ में छत्तीसगढ़ और आस-पास के राज्यों में सेवा प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू बाल्को मेडिकल सेंटर पूर्वी भारत के सबसे बड़े कैंसर अस्पतालों में से एक के रूप में उभरा है और भारत में एक विश्वसनीय उपचार केंद्र के रूप में जबरदस्त लोकप्रियता हासिल की है। इसका श्रेय 45 विशेषज्ञ डॉक्टरों और स्टाफ की चिकित्सा विशेषज्ञता, बेहतरीन सुख-सुविधा, इलाज का कम खर्च और मरीजों के इलाज के दौरान उनकी अच्छी देखभाल को जाता है।

वेदांता समूह के अध्यक्ष श्री अनिल अग्रवाल के कार्य सिद्धांत, जो स्थानीय समुदायों के समावेशी विकास के साथ हितधारक मूल्य को सम्मिलित करते हैं, का अनुसरण करते हुए बाल्को मेडिकल सेंटर ने खुद को तीन महत्वपूर्ण स्तंभों के लिए समर्पित किया है अर्थात् रोकथाम, स्क्रीनिंग और उपचार, जो कैंसर मुक्त समाज के स्वप्न को एक वास्तविकता बनाते हैं।  अपने शुरुआती दिनों से, यह कैंसर की रोकथाम के बारे में जागरूकता फैलाने, संचार के सभी रूपों का लाभ उठाने और मीडिया और अन्य समान विचारधारा वाले विशेषज्ञों के साथ साझेदारी करने में सबसे आगे रहा है।  एक महत्वपूर्ण दूसरे कदम के रूप में, अस्पताल ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, छत्तीसगढ़ सरकार के साथ मिलकर छत्तीसगढ़ के 27 जिलों में स्क्रीनिंग कैंप का संचालन किया, विशेषज्ञों घर-घर तक पहुंचाया और सबसे सामान्य कैंसर- स्तन, गर्भाशय ग्रीवा और ओरल के लिए मुफ्त स्क्रीनिंग प्रदान की।

नवंबर 2019 में लॉन्च होने के बाद से इन शिविरों में भारी भीड़ देखी गई है और पहले से ही हजार से अधिक रोगियों को लाभ हुआ है। बाल्को मेडिकल सेंटर की अध्यक्ष श्रीमती ज्योति अग्रवाल ने कहा, “वेदांता ग्रुप अपने सीएसआर फुटप्रिंट्स के साथ हमेशा अपनी सभी सीएसआर गतिविधियों को राष्ट्रीय प्राथमिकताओं के साथ मिलाता है। स्वास्थ्य देखभाल के क्षेत्र में काम करते हुए, बाल्को मेडिकल सेंटर (BMC) जिसे वेदांत ने छत्तीसगढ़ के नया रायपुर में कैंसर की रोकथाम, नियंत्रण और उन्मूलन की दिशा में योगदान करने के लिए स्थापित किया गया था।  ये समय-समय पर और समाज के हर क्षेत्र में, कैंसर की जल्द पहचान को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न स्क्रीनिंग अभियान चलाता है।”

एस वेंकट कुमार, मुख्य परिचालन अधिकारी, बाल्को मेडिकल सेंटर, ने पुन: दोहराया कि, “हम एक ऐसे समाज की परिकल्पना करते हैं जहाँ हर कोई कैंसर से मुक्त रहता है।  यह सही अर्थों में तभी संभव है जब हम विश्व स्तरीय कैंसर देखभाल प्रदान करने के अलावा सावधानीपूर्वक स्क्रीनिंग और रोकथाम का रास्ता अपनाएं।” आज, बाल्को मेडिकल सेंटर देश में उन्नत विकिरण चिकित्सा, ब्रैकीथेरेपी, परमाणु चिकित्सा, सर्जरी, कीमोथेरेपी, इम्यूनोथेरेपी, लक्षित चिकित्सा, रक्त से संबंधित विकार, प्लास्टिक और पुनर्निर्माण सर्जरी और दर्द और उपशामक के लिए एक पसंदीदा व्यापक कैंसर देखभाल सुविधा के रूप में उभरा है।

अपने पर्याप्त और प्रभावी काम के साथ, ये अस्पताल कैंसर मुक्त समाज बनाने में सहयोग करने के मिशन पर है, जो कैंसर के इलाज में देश की भारी मांग-आपूर्ति अंतर, जागरूकता की कमी, बुनियादी ढांचे और ऑन्कोलॉजिस्ट की कमी को दूर करने के लिए अपनी विशेषज्ञता और संसाधनों को समर्पित करता है।  निकट भविष्य में शिक्षाविदों और अनुसंधान को जोड़ने की दृष्टि से, बाल्को मेडिकल सेंटर का उद्देश्य ऑन्कोलॉजी में उत्कृष्टता का विश्व-प्रसिद्ध केंद्र बनना है।  विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर, अस्पताल मानव जाति की सबसे खतरनाक बीमारियों में से एक, कैंसर के खिलाफ लड़ाई में सबसे आगे रहने के लिए खुद को फिर से समर्पित करता है, और पूरी सावधानी और करुणा के साथ मानव जाति की सेवा जारी रखने का संकल्प दोहराता है।

Related posts:

लैंड रोवर ने अपनी नई एसयूवी डिस्कवरी स्पोर्ट को अतिरिक्तम फीचर्स और वर्सेटिलिटी से और बेहतर बनाया
VODAFONE IDEA’S LOCKDOWN SUPERSTARS ARE GOING THE EXTRA MILE TO KEEP RAJASTHAN CONNECTED DURING THE ...
नेक्सस सेलिब्रेशन मॉल में देर रात तक कर सकेंगे खरीददारी
दुग्ध उत्पादक कंपनियो से जुड़े 1.10 लाख से अधिक डेयरी किसानों ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र
एमपीयूएटी के कुलपति को डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन शिक्षाविद् सम्मान
साधु ने कोरोना के नाम अपनी सारी दौलत कर खरीदा जरूरतमंदों के लिए राशन
सांई तिरूपति विवि मे अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया
108 कुंडीय गायत्री महायज्ञ की तैयारियां जोरों पर
उपदेश राणा उदयपुर कोर्ट में पेश हुए
FIRST IN INDIA TRANSRADIAL CASE OF SHOCKWAVE INTRAVASCULAR LITHOTRIPSY “Coronary Blockage Can Now Be...
Paytm launches Daily DTH Dhamaal offer for recharges during IPL 2022 season winners to get cashback ...
इंदिरा आईवीएफ ने किया अंतर्राष्ट्रीय प्रजनन बाजार में प्रवेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *