ग्रेटर गुड के लिए के लिए कार्य करना हमारें डीएनए में – अनिल अग्रवाल

कोविड-19 राहत कार्यों के लिए वेदांता द्वारा हिन्दुस्तान जिंक के 7 फ्रंटलाइन लीडर्स सम्मानित

उदयपुर। वेदांता का बड़ा उद्देश्य हमारे समाज, समुदाय और देश को पुन: लौटाना है। राष्ट्रीय समृद्धि और सतत विकास की दिशा में ‘द ग्रेटर गुड’ के लिए कार्य करना हमारे डीएनए में है। यह बात वेदांता के चैयरमेन अनिल अग्रवाल ने वेदांता केयर्स की शुरू की गयी अनूठी पहल के बाद ईटाउनहाल में कही। इसका आयोजन वेदांता द्वारा 7 अलग अलग स्थानों पर कोविड 19 में राहत कार्यों के लिए किए गये सहयोग हेतु प्रोत्साहन और सम्मानित करने के लिए किया गया। इस अवसर पर अग्रवाल ने हिन्दुस्तान जिंक से संबद्ध 7 फ्रंटलाइन लीडर्स को चैयरमेन अवार्ड की घोषणा की। अग्रवाल ने वेदांता द्वारा कोविड 19 महामारी में राहत कार्यों के तहत दैनिक मजदूरी, जरूरतमंद और घूमंतु पशुओं और प्रभावितों तक मदद पहुंचाने वाले सहयोगियों को सम्मानित करने हेतु इस ईटाउनहॉल में 150 से अधिक लोगों से बातचीत कर उनका उत्साहवर्धन किया, जिसमें एनजीओ, व्यापारिक भागीदारों, अनुबंध कंपनियों और कर्मचारी सम्मिलित है।
हिन्दुस्तान जिंक़ की सखी परियोजना के संचालन हेतु एनजीओ पार्टनर मंजरी फाउण्डेशन द्वारा स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा गे्रन बैंक की स्थापना कर 10 टन से अधिक खाद्यान्न इका कर जरूरतमंदों तक पहुंचाने और 1 लाख से अधिक मास्क बना कर कोरोना योद्धाओं और ग्रामीणों को उपलब्ध कराने के लिए सम्मानित किया। साथ ही श्रीनाथ ट्रावेल एजेंसी, टेक्नोमिन कंस्ट्रक्शन लिमिटेड एवं हिन्दुस्तान जिंक़ के कर्मचारी देबांशु चटर्जी, विनय कुमार, अनागत आशीष एवं ऋषिराज शेखावत को उनके द्वारा कोराना महामारी से राहत कार्यों और जरूरतमंदों तक सहायता प्रदान करने में योगदान हेतु चैयरमेन अवार्ड की घोषणा की। वेदांता के चैयरमेन अनिल अग्रवाल ने कहा कि हम राष्ट्र के साथ मिलकर इस संकट से लड़ रहे हैं। हमने उन समुदायों की सेवा करने में अपना योगदान देकर वेदांता के सिद्धांत समाज को पुन: लौटाने को प्रतिपादित किया। हमारी टीम ने दिन रात कार्य करते हुए, समुदायों का सहयोग करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। मैं इस सहयोग के लिए हमारे सहयोगियों, संगठनों और वेदांता टीम के प्रत्येक सदस्य आभारी हूं जिन्होंने परिवार की तरह इस संकट का मुकाबला किया है। हम समुदायों और प्रशासन के साथ कार्य करना जारी रखेंगे, इससे सेवारत समुदायों में दूसरों को प्रेरणा मिलेगी और उम्मीद है कि हम इस स्थिति से उबरेगें। मंजरी फाउंडेशन के एक्जीक्यूटीव डायरेक्टर संजय शर्मा ने कहा कि हिन्दुस्तान जिंक़ के नेतृत्व में, सखी एसएचजी महिलाओं ने मजबूत सामुदायिक प्रतिनिधि के रूप में वृद्धि की है। सखी परियोजना द्वारा गांवों में कोई भी भूखा ना सोये के उद्धेश्य को सुनिश्चित करने के लिए ग्रेन बैंक की स्थापना कर 10 हजार किलो खाद्यान्न इका किया जिससे समुदायों को माहामारी से लडऩे में सहायता मिली। हम इस प्रकार किसी भी समय में समुदाय की मदद के लिए त्वरित सहायता के लिए प्रतिबद्ध है।
उल्लेखनीय है कि वेदांता ने पीएम केआरईएस फंड, स्टेट फंड्स, और देश भर में राहत प्रदान करने के लिए 201 करोड़ रुपये का योगदान दिया है। सरकार के प्रयासों के सहयोग करते हुए वेदांता के कर्मचारियों ने एक दिन के वेतन को पीएम केयर्स फंड में योगदान किया है। अपने मिल फॉर ऑल कार्यक्रम के तहत 13 लाख से अधिक लोगों को भोजन प्रदान किया। साथ ही वेदांता प्रतिदिन 50 हजार से अधिक घुमंतु जानवरों को आहार का बीड़ा उठाया। इस पहल के तहत, वेदांता ने अब तक दिल्ली, मुंबई, जयपुर और पुणे में 12.70 लाख से अधिक जानवरों को आहार उपलब्ध कराया है।
महामारी से बचाव हेतु स्वास्थ्य सेवा को बढ़ाने के वेदांता के प्रयास में, 7 लाख मास्क और 1 लाख साबुन और सैनिटाइजर हिन्दुस्तान जिंक़ के 5 जिलों एवं पंतनगर सहित पूरे भारत में निर्मित और वितरित किए गए। कपड़ा मंत्रालय के सहयोग से 23 पीपीई मशीनों का आयात किया गया, जिससे प्रति सप्ताह 40,000़ पीपीई का उत्पादन हो सके। अपोलो अस्पताल के सहयोग से, कर्मचारियों और परिवारों को चिकित्सा सलाह के लिए एक समर्पित चैबिसो घंटे हेल्पलाइन स्थापित की गई।

Related posts:

आसियान-भारत संबंधों के 30 साल पूरे होने का जश्न मनाया
प्रसिद्ध उद्योगपति धनराज नथवानी ने किये श्रीजी प्रभु की आरती की झांकी के दर्शन
दो दिवसीय संगोष्ठी एवं कला सृजन कार्यशाला सम्पन्न
ओसवाल सभा महिला प्रकोष्ठ द्वारा 250 तामिरदारों को भोजन वितरित
प्रसंग संस्थान द्वारा स्त्री कथन पर कवि गोष्ठी आयोजित
हिंदुस्तान जिंक ने लॉजिस्टिक्स के लिए एलएनजी-चालित ट्रकों की तैनाती के संबंध में ग्रीनलाइन के साथ की...
HDFC Bank and Pravega VenturesSelectTwo Startups under Co-Lab Initiative to Drive Innovation in Fint...
HDFC Ltd. to merge into HDFC Bank effective July 1, 2023
दृष्टिहीन क्रिकेट चैंपियनशिप -2019 सम्पन्न, राजस्थान को हरा केरल का चैंपियनशिप पर कब्जा
मुख्यमंत्री निःशुल्क अन्नपूर्णा फूड पैकेट योजना का शुभारम्भ
HDFC Bank wins award for Most Innovative Practice in Customer Experience at CII DX Digital Transform...
Hindustan Zinc receives Platinum Award at Apex India Occupational Health & Safety Award 2023

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *