30 वाॅं खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह सम्पन्न

उदयपुर। भारतीय खान ब्यूरो, अजमेर के तत्वावधान में खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह 2019-20 का समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन होटल जुस्ता राजपुताना रिसोर्ट उदयपुर मे किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में श्रीमती इन्द्रा रविन्द्रन, महानियंत्रक भारतीय खान ब्यूरा,े नागपुर एवं सम्मानित अतिथि के रूप मे पकंज कुलश्रेष्ठ, खान नियंत्रक (उत्तराचंल) सम्मिलित हुए। इस वर्ष खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह की मेजबानी मेसर्स जिन्दल सा लिमिटेड, भीलवाडा द्वारा की गई। इस सप्ताह में राजस्थान राज्य की 52 प्रधान खनिज की खानो ने भाग लिया।
बी.एल. कोटडीवाला, क्षेत्रीय खान नियंत्र्रक, भारतीय खान ब्यूरो, अजमेर एवं संरक्षक, खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह ने खनन कम्पनियों से आए कार्मिको का स्वागत किया। उन्होने सप्ताह की महत्ता के बारे में जानकारी दी एवं खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह के विगत तीस वर्षो की यात्रा की चर्चा की।
पकंज कुलश्रेष्ठ, खान नियंत्रक (उत्तराचंल) ने खान मालिकों एवं खनन कंपनियों में सामुदायिक विकास तथा सुनियोजित विकास एवं श्रेष्ठ खनन संक्रियाओं के प्रति जागरूकता पैदा करने बारे मे जानकारी देते हुए खानों में उत्पादन को बढ़ा कर खनन क्षेत्र के द्वारा जीडीपी मे योगदान को बढाने पर चर्चा की। भारतीय खान ब्यूरो द्वारा खानों के संधारणीय विकास हेतु स्टार रेटिगं के बारे मे बताया।
श्रीमती ईन्दिरा रविन्द्रन, महानियंत्रक, भारतीय खान ब्यूरो ने खान पर्यावरण की महत्ता के बारे में जानकारी दी एवं साथ ही भारतीय खान ब्यूरो की खनन क्षेत्र की पोलिसी निर्धारण में योगदान एवं खनिज सरंक्षण मे योगदान के बारे मे बताया। उन्होने बताया कि खानों मे उत्पादन बढाने के साथ-साथ पर्यावरण सरंक्षण एवं आसपास के क्षेत्र के सामुदायिक विकास पर ध्यान देने की आवश्यकता है। उन्होंने नेषनल मिनरल पोलिसी 2019 एवं भारत सरकार द्वारा एमएमडीआर एक्ट मे हाल ही कीये गये संषोधनो एवं उसके अन्तर्गत नये नियमों से अवगत कराते हुए निम्न श्रेणी के खनिजों के उपयोग पर बल दिया ताकि आने वाली पीढियों के लिए खनिज संपदा विरासत में छोड सके।
इस मौके पर मुख्य अतिथि द्वारा विभिन्न खानों द्वारा अलग अलग क्षेत्रों मे किये गये सर्वश्रेष्ठ कार्यों हेतु पुरस्कार वितरत किया गया। कार्यक्रम को मेसर्स जिन्दल सा लिमिटेड़ के ईकाइ प्रधान धर्मेद्र गुप्ता एवं माईनिगं हैड सुनिल पांडे ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम के दौरान आगामी वर्ष 2020-21 के आयोजन हेतु मेसर्स बिरला सिमेंट वक्र्स के इकाई प्रधान राजेष कक्कड़ को खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह का ध्वज सौंपा गया। अन्त में खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह के सचिव दिनेश पाटिल द्वारा धन्यवाद ज्ञापित किया गया। कार्यक्रम के दोरान खान सुरक्षा उप महानिदेषक मनीष मुरकुटे, एवं भारतीय खान ब्यूरो के अधिकारीयो ने भी भाग लिया कार्यक्रम के दौरान विभिन्न खानों के खनन अभियंताओं, खनन भुविज्ञानिको, खनन प्रबधंको, खान एजेटों एवं खनन पटटा धारको ने भाग लिया

Related posts:

484वीं प्रताप जयंती के उपलक्ष्य में मोती मगरी स्मारक परिसर में 10-10 फीट ऊंचे 484 फल-छायादार पेड़ लग...
VODAFONE IDEA’S LOCKDOWN SUPERSTARS ARE GOING THE EXTRA MILE TO KEEP RAJASTHAN CONNECTED DURING THE ...
Banasthali Vidyapith Girls explore Study Abroad opportunities by attending a seminar on"Chase your D...
Hindustan Zinc Certifies as a ‘Great Place to Work’ for the fifth time in a row
ABB technology helps Wonder Cement to save over 1.8GWh energy annually
JK Tyre records all-time high revenues, up by 22% & Profit up by 31%
राजस्थान के पहले शोल्डर केडेवरीक ओर्थोप्लासी कोर्स का पिम्स उदयपुर में सफल आयोजन
सयाजी ग्रुप ने उदयपुर में अपना पहला होटल ‘एनराइज बाय सयाजी’ लॉन्च किया
दुर्लभ बीमारी ‘प्यूट्ज जेगर्स सिंड्रोम (पी.जे.एस)’ से पीडि़त रोगी का गीतांजली हॉस्पिटल में सफल इलाज
विकसित भारत संकल्प यात्रा का आगाज
मॉडलिंग इंडस्ट्री में करियर हेतु व्याख्यान
एथर एनर्जी ने उदयपुर में अपना पहला रिटेल आउटलेट खोला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *