लाॅकडाउन जारी रहने तक अग्रिम फीस नहीं ले सकेंगे स्कूल

10वीं-12वी ंको छोड़कर शेष स्कूली छात्र क्रमोन्नत होंगे: मुख्यमंत्री

:उदयपुर। मुख्यमंत्री श्री अशाके गहलोत ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लागू लाॅकडाउन के जारी रहने तक प्रदेश के सभी स्कूल संचालको को विद्यार्थियाेे से तीन माह की अग्रिम फीस नहीं लनेे के निर्देश दिए हैं। विद्यार्थियो ंके हित मे यह फैसला करते हुए उन्होने कहा है कि फीस के अभाव मे किसी भी छात्र का नाम नहीं काटा जाए। साथ ही, 10वीं एव 12वीं बोर्ड परीक्षाओ वाले विद्यार्थियो को छोड़कर अन्य सभी स्कूली विद्यार्थियो को अगली कक्षा मेें क्रमोन्नत किया जाए। श्री गहलोत गुरूवार को वीडियो काॅन्फ्रेंिसंग के माध्यम से लाॅकडाउन के दौरान स्कूलो, काॅलजेो सहित सभी शिक्षण संस्थानो मे शैक्षणिक सत्र की स्थिति और आगामी सत्र की तैयारियो की समीक्षा कर रहे थे। उन्होनं निर्देश दिए कि स्कूलो और काॅलजेों मे यथासम्भव आॅनलाइन लक्ेचर तथा ई-लर्निंग की व्यवस्था की जाए, ताकि विद्यार्थियो ंकी पढा़ई मे ंनिरन्तरता बनी रहे और वे घर पर रहकर भी समय का सदुपयोग कर सकें।
तकनीकी विश्वविद्यालय के आठवें सेमस्ेटर की परीक्षाएं प्राथमिकता से काॅन्फ्रंेस मे ंनिर्णय लिया गया कि प्रदेश के सभी उच्च शिक्षा एव तकनीकी शिक्षा से जुडे संस्थानो मे 15 अप्रैल से ग्रीष्म अवकाश घोषित किया जा सकता है। ले‍ ि‍किन स्कूलो में 15 अप्रैल से ग्रीष्म अवकाश नहीं होगा। साथ ही, राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय से सम्बद्ध संस्थानो में लाॅकडाउन हटने के बाद आठवे सेमेस्टर की परीक्षाएं प्राथमिकता से करवाने का भी निर्णय लिया गया। परीक्षाओं के शेड्यूल और आगामी शैक्षणिक सत्र के लिए 5 सदस्यीय समिति काॅन्फ्रंेस मे उच्च शिक्षा राज्यमंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने बताया कि उच्च शिक्षा विभाग ने विश्वविद्यालय परीक्षाओ के शडे्यूल के निर्धारण के लिए एक 5 सदस्यीय समिति बनाई है, जो लाॅकडाउन हटने के बाद परीक्षाओ और आगामी शैक्षणिक सत्र के संचालन के बारे मे सुझाव देगी। समिति मे राजस्थान विश्वविद्यालय, जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय और मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय के कुलपति तथा आयुक्त काॅलेज शिक्षा और संयुक्त शासन सचिव उच्च शिक्षा शामिल हैं।
सभी कक्षाओ की किताबे आॅनलाइन उपलब्ध : शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया कि सभी कक्षाओ की किताबे आॅनलाइन उपलब्ध करवा दी गई हैं। अब विद्यार्थियो के लिए आॅनलाइन कन्टेन्ट तैयार करने का कार्य किया जा रहा है ताकि घर पर रहकर भी बच्चे अपनी पढ़ाई जारी रख सके।
ई-कन्टेन्ट के लिए यू-ट्यूब चैनल तैयार तकनीकी शिक्षा राज्य मंत्री डाॅ. सुभाष गर्ग ने बताया कि तकनीकी शिक्षण संस्थानो मे मिड सेमस्ेटर परीक्षाएं आॅनलाइन पूरी कराई जा चुकी हैं। विद्यार्थियो को ई-कन्टेन्ट उपलब्ध करवाने के लिए एक यू-ट्यूब चैनल तैयार किया गया है, जिस पर 600 से अधिक लक्ेचर अपलोड किए गए हैं। अध्यापको को अधिक से अधिक ई-कन्टेन्ट तैयार करने के लिए निर्देश दिए गए हैं। काॅन्फ्रंेस मे मुख्य सचिव डीबी गुप्ता, शासन सचिव उच्च शिक्षा शुचि शमार्, शासन सचिव स्कूल शिक्षा मंजू राजपाल और आयुक्त काॅलजे शिक्षा प्रदीप बोरड़ सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Related posts:

कोनार्क व वंडर वॉरियर्स की लगातार दूसरी जीत
चंदा सुहालका ओबजर्वर नियुक्त
राजसमंद में वेदांता हिन्दुस्तान जिंक द्वारा अत्याधुनिक तकनीक के 100 बेड वाले कोविड फिल्ड हॉस्पीटल की...
उदयपुर से अच्छी खबर: कोरोना रोगियों का ग्राफ़ घटते घटते 14.87 हुआ, आज 401 रोगी संक्रमित आये
होण्डा 2 व्हीलर्स इंडिया की नई डीलरशिप दक्ष होण्डा का शुभारंभ
हरीसिंह खरवड़ इंटक के जिलाध्यक्ष नियुक्त
हिन्दुस्तान जिंक ग्रामीण एवं आदिवासी क्षेत्र के विकास हेतु दृढ़ संकल्पित
Hindustan Zinc organizes summer camp under its Shiksha Sambal Initiative
पैंथर शावक को रेस्क्यू किया
Fino, the digital bank, provides passbook facility to customers in Rajasthan
आल इण्डिया इस्कान पदयात्रा का बेदला गाँव में भव्य स्वागत
PW student Kushagra from Bhiwadi, Rajasthan Achieved AIR 1 in CA Inter via online classes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *