अंतिम प्रशिक्षण प्राप्त कर अपने गंतव्य को रवाना हुए मतदान दल

उदयपुर। लोकसभा आम चुनाव 2024 के द्वितीय चरण के तहत उदयपुर जिले में मतदान शुक्रवार, 26 अप्रैल की सुबह 7 बजे से प्रारंभ होगा जो सायं 6 बजे तक चलेगा। लोकतंत्र के इस महापर्व के सफल आयोजन के लिए जिला प्रशासन मुस्तैद है और जिला निर्वाचन अधिकारी अरविंद पोसवाल के निर्देशन में सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली गई है।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिले में स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतदान को लेकर समस्त तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। मतदान दलों का तृतीय एवं अंतिम प्रशिक्षण गुरुवार को मोहनलाल सुखाडिया विश्वविद्यालय परिसर के आर्ट्स कॉलेज के भवन व ग्राउण्ड पर जिला निर्वाचन अधिकारी अरविंद कुमार पोसवाल की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ। इस अवसर भारत निर्वाचन आयोग की ओर से उदयपुर लोकसभा क्षेत्र के लिए नियुक्त सामान्य प्रेक्षक औवेस अहमद राणा, उप जिला निर्वाचन अधिकारी दीपेन्द्र सिंह राठौड़, प्रशिक्षण प्रकोष्ठ प्रभारी जितेन्द्र ओझा, कार्मिक प्रकोष्ठ प्रभारी कीर्ति राठौड़, एनआईसी के तकनीकी निदेशक मजहर हुसैन सहित विभिन्न प्रकोष्ठ के प्रभारी मौजूद थे। मतदान दलों के गन्तव्य तक पहुंचने तक कलक्टर पोसवाल के नेतृत्व में पूरी टीम ने लगातार मॉनिटरिंग की। इस दौरान रूट चार्ट के अनुसार सब दलों की रवानगी और पहुंच की पल-पल की जानकारी भी ली जा रही थी।


जिला निर्वाचन अधिकारी पोसवाल ने प्रशिक्षण स्थल का निरीक्षण किया और वहां स्थापित विभिन्न काउंटर पर पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया और सफल मतदान के लिए समस्त दायित्वों का भली भांति निर्वहन के निर्देश दिए। उन्होंने मतदान दल के कार्मिकों से चर्चा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
जिला निर्वाचन अधिकारी के आदेशानुसार लोकसभा आम चुनाव 2024 के तहत मतदान दिवस 26 अप्रेल, शुक्रवार को उदयपुर जिले में सार्वजनिक अवकाश घोषित किया गया है। इसके साथ ही संसदीय क्षेत्र के निजी या सार्वजनिक प्रतिष्ठानों, दुकान, औद्योगिक उपक्रम या कारोबार अथवा व्यवसाय के नियोजको को मतदान कार्यक्रमानुसार उनके संस्थान में नियोजित व कार्यरत प्रत्येक कामगार को (जिनमें आकस्मिक कामगार भी सम्मिलित है) मतदान दिवस सवैतनिक अवकाश प्रदान करने के भी निर्देश दिए हैं।
राज्य निर्वाचन विभाग से जारी गाइड लाइन के अनुसार मतदान दिवस के अवसर पर प्रत्येक मतदान केन्द्र पर दिव्यांग एंव वृद्धजन के सहयोगार्थ प्रत्येक बूथ पर राजस्थान राज्य भारत स्काउट व गाइड, एनसीसी व एनएसएस के दो-दो वॉलिंटियर्स सेवाएं देंगे। मतदान केन्द्र पर विशेष योग्यजनों एवं वरिष्ठ नागरिकों को आदरपूर्वक बूथ तक सुगमता पूर्वक पहुंवाने की व्यवस्था करेगे।
लोकसभा आम चुनाव के तहत उदयपुर संसदीय क्षेत्र में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के ताराचंद मीणा, बहुजन समाज पार्टी के दलपतराम गरासिया, भारतीय जनता पार्टी के मन्नालाल रावत, भारत आदिवासी पार्टी के प्रकाशचंद्र, इंडियन पीपुल्स ग्रीन पार्टी के राजेंद्र कुमार,, निर्दलीय प्रत्याशी कानजी डामोर, प्रभुलाल व डॉ सविता कुमारी अहारी चुनाव मैदान में है।
भारत निर्वाचन आयोग की मंशा है कि प्रत्येक मतदाता के पास मतदाता पहचान पत्र हो। आयोग की ओर से लगभग सभी मतदाताओं को पहचान पत्र जारी भी कर दिए गए हैं। आयोग की पहली प्राथमिकता है कि मतदाता बूथ पर मतदाता पहचान पत्र के साथ ही पहुंचे। इसके बावजूद यदि किसी मतदाता के पास किन्हीं कारणों से मतदाता पहचान पत्र उपलब्ध नहीं हो और उसका नाम लोकसभा चुनाव की मतदाता सूची में अंकित हो तो उसे मतदान से वंचित नहीं किया जाएगा। इसके लिए आयोग ने 12 वैकल्पिक पहचान दस्तावेजों की अनुमति दी है। इनमें से कोई भी दस्तावेज दिखाकर मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग कर सकेंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी अरविन्द पोसवाल ने बताया कि इन 12 दस्तावेजों में आधार कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, भारतीय पासपोर्ट, फोटो सहित पेंशन दस्तावेज, केंद्र/राज्य सरकार/पीएसयू/सार्वजनिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा कर्मचारियों को जारी किए गए फोटोयुक्त सेवा पहचान पत्र, बैंक/डाकघर द्वारा जारी फोटोयुक्त पासबुक, राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के तहत आरजीआई द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के तहत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, सांसदों/विधायकों/एमएलसी को जारी किए गए आधिकारिक पहचान पत्र और भारत सरकार के सामाजिक न्याय मंत्रालय द्वारा दिव्यांगजनों को जारी यूनिक डिसेबिलिटी आईडी शामिल हैं।
आगामी लोकसभा चुनाव 2024 के लिए दिए गए मिशन 75 प्रतिशत के लक्ष्य को प्राप्त करने की अनुपालना में जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला कलेक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल ने सभी मतदाताओं को मतदान दिवस पर अपने मताधिकार का उपयोग करने की अपील की। उन्होंने सभी पात्र मतदाताओं से आह्वान किया कि हम सभी को संवैधानिक दायित्व निभाकर लोकतंत्र को मजबूत करना चाहिए। जिला पुलिस अधीक्षक योगेश गोयल ने भी सभी नागरिकों से मतदान करने की अपील की है एवं कहा कि जिला प्रशासन द्वारा सभी प्रकार की व्यवस्था सुनिश्चित की जा चुकी है, सभी मतदाता निर्भीक होकर मतदान कर लोकतंत्र के इस महापर्व में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें।

Related posts:

Breathe life into your furniture with hassle-free magic of Fevicol Relam
Hindustan Zinc’s Sakhi Utsav Unites more than 9000 women in a Spectacle of Empowerment and Inclusion
15 अलग-अलग मुद्दों में सहयोग के उद्देश्य से 27 शहरों में 100 म्यूजिकल परफॉरमेंस के साथ, 100 पाइपर्स ...
किशोर बालगृह में निःशुल्क ट्रैक सूट, टी-शर्ट, लोअर,चप्पल, व स्टेशनरी वितरित
संगीत परिवार के सौवें कार्यक्रम में सुर और सरगम की बही सरिता
आदि महोत्सव में कपड़े के थैले वितरित
नारायण सेवा संस्थान में दीपावली स्नेहमिलन
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता संसदीय स्थायी समिति दल ने देखी नारायण सेवा  संस्थान
दिव्यांगजनों ने ट्राईसाइकिल रैली निकाल मतदान का दिया सन्देश
नारायण सेवा अफ़्रीका सेवा टूर - 2023
लेखांकन एवं व्यवसायिक सांख्यिकी विभाग के शोधछात्र पूर्वोत्तर विश्वविद्यालयों के साथ शोध विनिमय पर
Abhinav Banthia – New Chairman of CII Rajasthan & Arun Misra takes over as Vice Chairman

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *