जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट का शानदार आगाज, डीएवी एचजेडएल जावर माइन्स (लडक़े) और लकी फुटबाल क्लब (लड़कियों) ने जीता उदयपुर जोन का खिताब

-जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट के पहले संस्करण में उदयपुर जोन में 350 से अधिक लडक़े और लड़कियों ने हिस्सा लिया।

उदयपुर। जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट के पहले संस्करण का गुरुवार को उदयपुर के दिल्ली पब्लिक स्कूल मैदान पर रंगारंग आगाज हुआ। राजस्थान फुटबाल संघ के सहयोग से हिंदुस्तान जिंक द्वारा आयोजित किए जाने जा रहे अपने तरह के इस पहले टूर्नामेंट का अगाज उदयपुर जोन से हुआ, जिसमें हिंदुस्तान जिंक के सहायक सीईओ अरुण मिश्रा, जावर माइन्स के प्रमुख बलवंतसिंह, दरीबा माइन्स के प्रमुख राजीव बोरा, उदयपुर फुटबाल संघ के सचिव शकील अहमद, जिला फुटबाल संघ के संयुक्त सचिव सुनील रोजर, जिला फुटबाल संघ के सीनियर उपाध्यक्ष सैयद, दिल्ली पब्लिक स्कूल के प्रींसिपल संजय नरवरिया व अन्य की मौजूदगी में 35 टीमों के बीच शीर्ष खिताब के लिए प्रतिस्पर्धा हुई।
आखिरकार डीएवी एचजेडएल जावर माइन्स के लडक़ों और लकी फुटबाल क्लब की लड़कियों ने खिताब जीता और स्टेट चैम्पियनशिप के लिए क्वालीफाई किया, जिसका आयोजन जुलाई में जावर स्थित स्टेडियम में होना है। इस चैम्पियनशिप के माध्यम से राजस्थान की श्रेष्ठ टीमों का फैसला होगा। लडक़ों के वर्ग में डीएवी एचजेडएल जावर माइन्स ने फाइनल में लकी फुटबाल क्लब को 2-0 से हराया। अर्जुन मीणा और जीतेंद्र मीणा ने इस मैच में गोल किए। जीतेंद्र ने पूरे टूर्नामेंट आठ गोल किए। लड़कियों के फाइनल में लकी फुटबाल क्लब ने यूथ क्लब सेवा मंदिर को 2-0 से हराया। लकी फुटबाल क्लब की भारती त्रिभान और रक्षिता शर्मा ने गोल किए।
टूर्नामेंट के बारे में बात करते हुए हिंदुस्तान जिंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील दुग्गल ने कहा कि जिंक फुटबाल प्रोजेक्ट शुरू करने के बाद से ही यह टूर्नामेंट हमारा सम्मिलित सपना था। आज मैं बहुत खुश हूं क्योकि बच्चों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक प्लेटाफार्म मिल गया है और इनमें से श्रेष्ठ चुनकर आगे जाएगा। यह बस एक शुरुआत है और हम आने वाले समय में अधिक से अधिक बच्चों को उनकी श्रेष्ठ प्रतिभा के साथ आगे लाना चाहते हैं।
राजस्थान फुटबाल संघ के सचिव दिलीपसिंह शेखावत ने कहा कि जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट राजस्थान में फुटबाल की दिशा में एक मील का पत्थर है। हम इस बड़ी पहल के लिए हिंदुस्तान जिंक से जुडक़र खुश हैं। इस तरह की पहल इससे पहले कभी नहीं हुई। मैं यह देखकर खुश हूं कि उदयपुर की सभी टीमें यहां खेल रही हैं। मैं विजेताओं को बधाई देना चाहता हूं और उनसे यह कहना चाहता हूं कि वे राज्य स्तरीय टूर्नामेंट के लिए शानदार तैयारी करें।
जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट का मकसद राज्य में फुटबाल की श्रेष्ठ प्रतिभाओं को तलाशना और उन्हें प्रोमोट करना है। जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट का पहला संस्करण छह महीने तक चलेगा। इस टूर्नामेंट में राज्य के 33 जिलों की टीमें हिस्सा लेंगी। इसके लिए 500 से अधिक स्कूलों की टीमें बनेंगी और इससे 15 साल की कम उम्र के 5000 से अधिक लडक़े और लड़कियों को अपनी प्रतिभा के प्रदर्शन का मौका मिलेगा। जिंक फुटबाल यूथ टूर्नामेंट का आगाज जोनल स्तर पर अगले साल जनवरी के मध्य से होगा। इसके बाद राज्य स्तर तक इसका विस्तार किया जाएगा और फिर राजस्थान का अंडर-15 लडक़े और लड़कियों का चैम्पियन चुनने के लिए मुकाबले होंगे। फाइनल फेस ऑफ का आयोजन उदयपुर के पास स्थित जावर स्टेडियम में होगा।

Related posts:

पिम्स कैंपस में इंडियन क्रिकेट टीम के खिलाड़ी रवि विश्नोई का छात्रों से संवाद
लक्ष्यराजसिंह मेवाड़ बस से मायरा की रस्म अदा करने बहन के घर पहुंचे तो देखकर दंग रह गए पूर्व राजा-महा...
पत्रकार डॉ. संदीप पुरोहित को मिलेगा पं. मदन मोहन मालवीय राष्ट्रीय अलंकरण
वेदांता उदयपुर वल्र्ड म्यूजिक फेस्टिवल का रंगारंग आगाज
जिंक फुटबॉल के मोहम्मद कैफ ने भूटान में अंडर-16 कप में भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई
HDFC Bank and Indian Dental Association signs a MoU
जिंक स्मेल्टर देबारी एवं जावर ग्रुप ऑफ माइंस द्वारा सखी उत्सव का आयोजन
रक्तदान शिविर 11 को
अंतर्राष्ट्रीय नशा निषेध दिवस पर जागरूकता कार्यक्रम एवं रैली
उदयपुर में पहली बार हुई विदेशी नागरिक की न्यूरोसर्जरी
नवाचार पहलों के साथ हिंदुस्तान जिंक सस्टेनेबिलिटी की ओर निरन्तर अग्रसर
श्री सांवलिया सेठ के भंडार दानपेटी से निकले 13 करोड़ 1 लाख 80 हजार रूपये की राशि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *