फ्लिपकार्ट कर रहा है भारतीय कारीगरों को सपोर्ट देने के लिए 74वें गणतंत्र दिवस के मौके पर चौथे ‘क्राफ्टेड बाय भारत’का आयोजन

उदयपुर : भारत के स्‍वदेशी ई-कॉमर्स मार्केटप्‍लेस फ्लिपकार्ट ने फ्लिपकार्ट समर्थ क्राफ्टेड बाय भारतके चौथे एडिशन के आयोजन की आज घोषणा की है। इसका आयोजन भारत के 74वें गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्‍य में 26-27जनवरी को किया जाएगा। इस इवेंट के जरिए हस्‍तशिल्‍प और हथकरघा की भारत की समृद्ध सांस्‍कृतिक विरासत का जश्‍न मनाया जाएगा और इस दौरान फ्लिपकार्ट के प्‍लेटफार्म पर देशभर की 300 से अधिक कला परंपराओं पर आधारित 10,000 से अधिक प्रोडक्‍ट्स बिक्री के लिए उपलब्‍ध होंगे।

रजनीश कुमार, चीफ कार्पोरेट अफेयर्स ऑफिसर, फ्लिपकार्ट ग्रुप ने कहा, ”फ्लिपकार्ट की समर्थ पहल भारत के शिल्पियोंबुनकरों और हस्‍तशिल्‍प निर्माताओं को देशभर में ग्राहकों तक पहुंचने और अपनी आमदनी बढ़ाने का बेहतरीन अवसर दिलाने वाली साबित हुई है। 2019 में समर्थके लॉन्‍च के बाद से अब तक हम 1.5मिलियन विक्रेताओंबुनकरों और शिल्पियों को सशक्‍त बना चुके हैं और हमें पारंपरिक भारतीय कला एवं शिल्‍प को बढ़ावा देने के लिए योगदान करने पर गर्व है। हम स्‍वदेशी एवं हाशिए पर मौजूद व्‍यवसायों को ऑनलाइन माध्‍यम के जरिए आगे बढ़नेडिजिटल रूपांतरण कर अपनी समृद्धि का नया मुहावरा गढ़ने का अवसर देने के लिए संकल्‍पबद्ध हैं। क्रॉफ्टेड बाय भारतइवेंट लघु व्‍यवसायों एवं शिल्पियों को उनके अपने समुदायों से बाहर जाकर उन्‍हें मान्‍यता दिलाने वाला मंच हैयह उन्‍हें देशव्‍यापी पहुंच दिलाकर उन्‍हें वृहत्‍तर अर्थव्‍यवस्‍था में योगदान करने के लायक बनाता है। हम लगातार ग्राहकों को भारत की समृद्ध सांस्‍कृतिक और पारंपरिक विरासत के और नज़दीक लाना चाहते हैं और ऐसा करते हुए हम भारत के शिल्पियों तथा बुनकरों को उनके उद्यमी प्रयासों में भी सहयोग देते हैं।”

क्राफ्टेड बाय भारतइवेंट का मकसद भारत के शिल्पियों एवं बुनकरों क लिए ऐसा प्‍लेटफार्म उपलब्‍ध कराना है जिस पर वे अपनी उस उत्‍कृष्‍ट कारीगरी का प्रदर्शन कर सकें जिसकी बदौलत देश की समृद्ध संस्‍कृति और परंपरा सुरक्षित बनी हुई है। फ्लिपकार्ट के इस इवेंट में देश की कला और इतिहास को सामने लाने के साथ-साथ इन प्रोडक्‍ट्स के निर्माण से जुड़े कारीगरों एवं शिल्पियों को भी बढ़ावा मिलेगा। फ्लिपकार्ट के प्‍लेटफार्म पर इस आयोजन के लिए एक अलग से स्‍टोरफ्रंट शुरू किया जाएगा जिसके तहत् महिला विक्रेताओं को खासतौर से विशेष प्रोत्‍साहन मिलेगा। यह पहल महिला विक्रेताओं द्वारा कुछ अलग की पेशकश करने की पहल को उभारेगी।

भारत की समृद्ध सांस्‍कृतिक विरासत के जश्‍न के तौर परयह इवेंट राजस्‍थानी फर्नीचरजैसे आर्ट वर्क को सामने लाएगा जो दरअसलराजस्‍थानी शिल्पियों द्वारा तैयार किए जाते हैं। इसी तरहट्राइबल समाज के विश्‍वास और मूल्‍यों के प्रतीक बन चुके डोकरा आर्टके उत्‍पादों को पेश किया जाएगा। साथ हीनेचर और आर्ट के फ्युज़न को साकार करने वाली बैम्‍बू ज्‍यूलरीहोगी तो पश्चिम बंगाल की प्राचीन कारीगरी को उभारने वाली तांत की साड़‍ियां’ भी उपलब्‍ध होंगी। इस दौरानभारत और उसकी पारंपरिक कला परंपराओं को प्रदर्शित करने वाले खादीऔर कलमकारीके प्रोडक्‍ट्स भी उपलब्‍ध कराए जाएंगे।

इस इवेंट मेंफ्लिपकार्ट समर्थ प्रोग्राम से जुड़े देश भर के लाखों शिल्पियोंबुनकरोंनि:शक्‍त जनोंसैल्‍फ हैल्‍प ग्रुपों से जुड़ी महिलाओं और सरकारी एंपोरियों की भागीदारी भी होगी। इनमें टियर 2 एवं टियर 3 शहरों के लोगों के अलावाकुछ शहरी केंद्रों समेत देश के ग्रामीण इलाकों के लोग भी हिस्‍सा लेंगे। साथ हीविभिन्‍न सरकारी एवं प्राइवेट ब्रैंड्स और देशभर के अन्‍य कई स्‍थानीय कारोबारी भी इस इवेंट से जुड़ रहे हैं। 

 

Related posts:

हिन्दुस्तान जिंक को खनन क्षेत्र में देश की पहली महिला माइन रेस्क्यू प्रशिक्षित टीम का गौरव
कार्मिकों का प्रथम रेण्डमाईजेशन
ZINC FOOTBALL ACADEMY GOES UNBEATEN IN GROUP STAGE
पिम्स मेवाड़ कप का पहला सुपर ओवर, मेवाड़ टूरिज्म क्लब ने जीता
वाद्य यंत्रों और सुरो की जुगलबंदी के साथ गज़ल एवं भजन की प्रस्तुति से श्रोता हुए रस विभोर
जिंक फुटबॉल यूथ टूर्नामेंट में राजसमंद की लगभग 200 फुटबॉल प्रतिभाओं ने दिखाया हूनर
SavlonSwasth India announces Sachin Tendulkar as the  World’s First ‘HandAmbassador’
स्व. बी. चौधरी को भावभीनी श्रद्धांजलि
सयाजी ग्रुप ने उदयपुर में अपना पहला होटल ‘एनराइज बाय सयाजी’ लॉन्च किया
हिंदुस्तान जिंक भारत की एकमात्र खनन कम्पनी ग्लोबल सस्टेनेबिलिटी ईयरबुक-2020 में शामिल
JCB India launches three new Excavators
टैलेंटस्प्रिंट और आईआईएम उदयपुर मिलकर न्यू एज मैनेजमेंट एक्सपर्टीज के साथ प्रोफेशनल्स को और सशक्त बन...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *