नवरचना विश्वविद्यालय ने मेजर-माइनर विषय/विद्याशाखा प्रस्तुत की

  • यह सुविधा छात्रों को मेजर प्रोग्राम के साथ विभिन्न सात विषयों में से किसी एक को माइनर विषय के रूप में चुनने की अनुमति देगी
    उदयपुर : वडोदरा में मुख्य एवं पहले बहु-विषयक निजी विश्वविद्यालय, नवरचना विश्वविद्यालय के छात्र अब अपने मेजर डिग्री प्रोग्राम के अलावा एक माइनर विषय का अध्ययन करने में सक्षम होंगे।
    विश्वविद्यालय ने सात विषयों को निर्धारित किया है, जिनमें से छात्र माइनर विषय के रूप में किसी एक को चुन सकते हैं। उदाहरण के लिए, बीबीए के छात्र इंटीरियर डिजाइन में एक माइनर चुन सकते हैं, बीएससी केमिस्ट्री के छात्र कंप्यूटर साइंस में एक माइनर चुन सकते हैं और आदि इसी तरह से छात्र माइनर का विषय का विकल्प पसंद कर सकते है। छात्रों को शैक्षणिक कार्यक्रम के अंत में मुख्य प्रोग्राम की डिग्री के साथ माइनर विषय के लिए एक अलग प्रमाण पत्र मिलेगा।
    नवरचना विश्वविद्यालय के प्रोवोस्ट प्रोफेसर(वरिष्ठ प्राध्यापक) प्रत्यूष शंकर ने कहा कि माइनर विषय छात्रों को अपनी रुचियों में विविधता लाने और मेजर प्रोग्राम के साथ-साथ अपनी रुचि के एक छोटे विषय का अनुसरण करके व्यावसायिक बढ़त हासिल करने का शानदार अवसर प्रदान करते हैं। हमारा दृढ़ विश्वास है कि, सीखना किसी निश्चित विषय तक सीमित नहीं होना चाहिए और छात्रों को उनकी रुचि और झुकाव के विषयों को आगे बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए। मैं गर्व से कह सकता हूं कि नवरचना विश्वविद्यालय भारत के उन गिने-चुने और चुनिंदा विश्वविद्यालयों में से है जो छात्रों को ऐसा अवसर प्रदान करते हैं। मुझे विश्वास है कि छात्र इस अवसर का भरपूर लाभ उठाएंगे। इस तरह के दिलचस्प माइनर विषयों को प्रस्तुत करने के लिए मैं हमारे फैकल्टी को भी बधाई देता हूं।
    छात्रों के लिए उपलब्ध सात माइनर विषयों में जनरल मैनेजमेन्ट (स्कूल ऑफ बिजनेस एंड लॉ), बिजनेस लॉ (स्कूल ऑफ बिजनेस एंड लॉ), इंटीरियर डिजाइन (स्कूल ऑफ एनवायरनमेंटल डिजाइन एंड आर्किटेक्चर), हेल्थ साइंस (स्कूल ऑफ साइंस), मेकाट्रोनिक्स (स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी), कंप्यूटर साइंस (स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी) और फिल्म प्रोडक्शन (स्कूल ऑफ लाइबेरा स्टडीज एंड एजुकेशन) शामिल हैं।
    माइनर प्राप्त करने के लिए, छात्रों को उपरोक्त कोर्स में से 18 क्रेडिट मूल्य के कोर्स करने होंगे। 18 क्रेडिट, छात्रों के वैकल्पिक क्रेडिट बैंक से बनाए जाएंगे। वैकल्पिक कोर्स/विषय जो सभी सेमेस्टर में पेश किए जाएंगे, उन्हें एक विशेष माइनर के लिए नामित किया जाएगा।

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *