फिट राजस्थान, हिट राजस्थान के संदेश के साथ उदयपुर में राजीव गांधी ओलम्पिक खेलों का भव्य आगाज

मुख्यमंत्री का सपना, हर क्षेत्र में आगे बढे़ राजस्थान अपना- जगदीशराज श्रीमाली
गांधी ग्राउण्ड पर हुआ जिला स्तरीय शुभारंभ समारोह,  उदयपुर जिले में हुआ है सर्वाधिक रजिस्टेªशन
उदयपुर।
श्रम सलाहकार बोर्ड राजस्थान के उपाध्यक्ष राज्यमंत्री जगदीशराज श्रीमाली ने कहा कि राजस्थान हर क्षेत्र में आगे बढे़ यह मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का सपना है। इस सपने को साकार करने के लिए सरकार कई योजनाएं और कार्यक्रम चला रही है। इसी कड़ी में खेलों की दुनिया में राजस्थान को अव्वल बनाने और नई प्रतिभाओं को खोज कर आगे बढ़ाने के लिए ही राजीव गांधी ओलम्पिक खेलों का आयोजन किया जा रहा है।
श्रीमाली शनिवार को गांधी ग्राउण्ड में राजीव गांधी शहरी एवं ग्रामीण ओलम्पिक खेल के जिला स्तरीय शुभारंभ समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने राजस्थान को देश में अग्रणी पंक्ति का राज्य बनाया। युवाओं, महिलाओं, शोषित वर्ग सभी के लिए विशेष योजनाएं चलाई। खेलों को बढ़ावा देने के लिए निरंतर प्रयासरत है। जिस तरह पिछले राजीव गांधी ओलम्पिक खेलों में लोगों ने उत्साह दिखाया था यह सर्वविदित है। इसलिए मुख्यमंत्रीजी ने बजट में ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में ओलम्पिक खेलों के आयोजन की घोषणा की। आज इस प्रतियोगिता में पिछले बार की तुलना में गुना अधिक आमजन का उत्साह देखने को मिल रहा है। अभी देखने को मिल रहा है, यह अपने आम में सुखद है।


प्रारंभ में राज्यमंत्री श्रीमाली, संभागीय आयुक्त राजेंद्र भट्ट और जिला कलक्टर अरविन्द पोसवाल ने ध्वजारोहण कर ओलम्पिक खेलों का विधिवत आगाज किया।  
इसके पश्चात खिलाड़ियों के मार्चपास्ट की सलामी ली। महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति जिला संयोजक पंकज शर्मा, समाजसेवी फतहसिंह राठौड़, गोपालकृष्ण शर्मा आदि बतौर अतिथि मंचासीन रहे। इससे पूर्व मुख्य जिला शिक्षाधिकारी आशा माण्डावत व जिला खेल अधिकारी सुनीता भण्डारी ने अतिथियों का स्वागत किया। मंचीय कार्यक्रम के बाद सभी अतिथियों ने बॉस्केटबॉल कोट पहुंच कर खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर तथा बॉस्केटबॉल खेल में हाथ आजमा कर प्रतियोगिताओं का विधिवत् शुभारंभ किया। इसके साथ ही गांधी ग्राउण्ड सहित शहर के 12 खेल मैदानों तथा जिले भर में कलस्टर एवं पंचायतवार ओलम्पिक खेल प्रारंभ हुए।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे संभागीय आयुक्त राजेंद्र भट्ट ने खिलाड़ियों को टीम भावना और अनुशासन के साथ खेलों में भाग लेने का आह्वान किया। साथ ही सभी खिलाड़ियों को खेल भावना की शपथ दिलाई। विशिष्ट अतिथि तथा ओलम्पिक खेल आयोजन समिति के अध्यक्ष जिला कलक्टर अरविन्द पोसवाल ने कहा कि बचपन से सुनते आ रहे हैं कि पढ़ोगे लिखोगे तो बनोगे नवाब, खेलोगे कूदोगे तो होंगे खराब, लेकिन अब मायने बदल चुके हैं। अब पढ़ाई के साथ-साथ खेलों का भी उतना ही महत्व है। इसलिए इस कहावत में भी बदलाव हो चुका है। अब कहा जाएगा कि पढ़ोगे लिखोगे तो बनोगे नवाब, खेलोगे कूदोगे तो बनोगे लाजवाब। उन्होंने उदयपुर जिले में सर्वाधिक रजिस्टेªशन पर सभी को बधाई देते हुए टीम भावना और अनुशासन की मिसाल प्रस्तुत करने का आह्वान किया।


उद्घाटन समारोह में रंगारंग प्रस्तुतियों ने इसे भव्य रूप दिया। राजकीय बालिका उमावि रेजीडेंसी की छात्राओं ने राजस्थानी लोक गीत ‘केसरिया बालम आवो नी….’ पर स्वागत नृत्य प्रस्तुत किया। वहीं पर्यटन विभाग के तत्वावधान में लोक कलाकारांे ने कच्छी घोड़ी नृत्य प्रस्तुत कर उद्घाटन समारोह को लोक संस्कृति की महक से सुवासित कर दिया।
उल्लेखनीय है कि राजीव गांधी खेल ओलम्पिक में प्रदेश में सर्वाधिक खिलाड़ी उदयपुर जिले से भाग ले रहे हैं। जिले में कुल 3 लाख 86 हजार 932 खिलाड़ियों ने रजिस्टेªशन कराया है। इसमें ग्रामीण में 3 लाख 24 हजार 113 तथा शहरी में 62 हजार 819 खिलाड़ी शामिल हैं। ग्रामीण क्षेत्र में 32072 तथा शहरी क्षेत्रों में 6743 टीमें गठित की गई हैं। शहरी क्षेत्र में कलस्टर तथा ग्रामीण में पंचायत स्तर पर खेल स्पर्धाओं का आयोजन हो रहा है। ग्रामीण ओलम्पिक में कबड्डी में सर्वाधिक 10031, रस्साकशी में 7834, वॉलीबॉल में 4340, खो-खो में 3999, टेनिस बॉल क्रिकेट में 3625, फुटबॉल में 1208 तथा शुटिंग वॉलीबाल में 961 टीमें बनाई गई हैं। वहीं ब्लॉकवार सर्वाधिक टीमें फलासिया में 3414 गठित की हैं। इसके अलावा गोगुन्दा में 787, सराड़ा में 667, गिर्वा में 2211, झाडोल में 2184, बडगांव में 2932, भीण्डर में 2120, सायरा में 1288, सेमारी में 609, कोटड़ा में 1335, लसाड़िया में 1716, नयागांव में 785, सलूम्बर में 1256, झल्लारा में 1225, ऋषभदेव में 1086, खेरवाड़ा में 2455, कुराबड़ में 1726, मावली में 2376, जयसमंद में 907 तथा वल्लभनगर ब्लॉक में 993 टीमें गठित की गई हैं। शहरी ओलम्पिक के लिए गठित कुल 6743 टीमों में से 5182 टीमें अकेले उदयपुर शहर की हैं। सलूम्बर में 280, कानोड़ में 241, फतहनगर में 460, ऋषभदेव में 147, सेमारी में 98 व भीण्डर में 335 टीमें बनाई गई हैं। खेल वार कबड्डी में 710, टेनिस बॉल क्रिकेट में 806, खो-खो में 699, वॉलीबॉल में 812, फुटबॉल में 336, बॉस्केटबॉल में 329, एथलेटिक्स 100 मीटर दौड़ में 1951, 200 मीटर दौड़ में 794 व 400 मीटर दौड़ में 336 टीमें गठित की हैं। इस वृहद् खेल महाकुम्भ को सफलता पूर्वक आयोजित कराने के लिए जिला प्रशासन के नेतृत्व में खेल, शिक्षा, पंचायतीराज, स्थानीय निकाय सहित अन्य विभागों के अधिकारियों-कर्मचारियों की टीम पूरी मुस्तैदी के साथ जुटी हुई है।
कार्यक्रम के दौरान निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार चलाई जा रहे स्वीप अभियान के तहत जिला निर्वाचन अधिकारी अरविन्द पोसवाल ने सभी को मतदाता जागरूकता संबंधी जानकारी देते हुए शपथ दिलाई।
 समारोह में आयोजन की मुख्य नोडल अधिकारी व सीईओ जिला परिषद सलोनी खेमका, नगर निगम आयुक्त मयंक मनीष, गिर्वा एसडीएम प्रतिभा वर्मा, सहायक निदेशक दिनेश बसंल, एडीईओ नवीनकुमार, नोडल अधिकारी शकील हुसैन, केके शर्मा, नवलसिंह चुण्डावत, गिरीश भारती, भूपेन्द्र चौहान, बतुल हबीब, रोहित पालीवाल, सोमेश्वर मीणा, शहनाज अयूब, नजमा सहित कई जनप्रतिनिधि, अधिकारीगण, खेल प्रशिक्षक, खिलाड़ी एवं आमजन मौजूद रहे।

Related posts:

ग्रामीण सखी महिलाओं के बने उत्पाद “दाईची” अब उदयपुर के माॅल में भी उपलब्ध
शीतल संत मोरारी बापू ने किये श्रीजी प्रभु के उत्थापन की झांकी के दर्शन
हिंदुस्तान जिंक ने लगातार तीसरे वर्ष सभी स्थानों पर मनाया नो व्हीकल डे
VEDANTA BAGS PRESTIGIOUS ‘BEST ORGANISATION CONTRIBUTING IN SPORTS’ AWARD AT FICCI INDIA SPORTS AWAR...
पीआईएमएस उमरड़ा मे रैगिंग विरोधी सप्ताह
‘एक मुठो हंशी’ अभियान लॉन्च
नारायण सेवा का 39वां दिव्यांग एवं निर्धन सामूहिक विवाह 25-26 को
TTK Prestige announces the launch of the Prestige Xclusive Flagship Store at Udaipur
वीआईएफटी द्वारा वार्षिक खेल दिवस आयोजित
कोर कमेटी की बैठक के बाद गहलोत और जोशी ने 7 गारंटियों की घोषणा
मैले-कुचले वनवासी बच्चों को नहला कर दिया स्वच्छता का संदेश
एक फीडिंग बोतल को तोड़ो, एक जिंदगी को जोड़ो : डॉ देवेंद्र सरीन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *