पानेरियों की मादड़ी में रसमयी श्रीमद् भागवत शुरू

भगवान और कोई नही स्वयं आनंद है : संजय शास्त्री
उदयपुर।
आनंद को पलटा नहीं जा सकता उसके आगे ब्रह्म लगाने से ब्रह्मानंद और परम जोडऩे से परमानंद हो जाता है। जीवन का सत्य धर्म में छुपा है। धर्म के समान दूसरा कोई सत्य नहीं है। श्रीमद् भागवत कथा ही परम धर्म है। यह जीवन में आवागमन से मुक्ति प्रदान कर भगवान की स्वयं को प्राप्त करने की कथा है। ये विचार पानेरियो की मादड़ी स्थित घूमर गार्डन में गुरुवार से प्रारंभ हुई रसमयी श्रीमद् भागवत का महत्व बताते बांसवाड़ा के भागवताचार्य संजय शास्त्री ने व्यक्त किये।
कथा प्रारंभ से पूर्व प्रात: मादड़ी स्थित ओकारेश्वर महादेव से कलश शोभायात्रा निकाली गई। यात्रा में कलश लिए महिलाएं एवं बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए। व्यासपीठ के कथावाचक सुसज्जित बग्गी में विराजमान थे। आयोजक श्यामलाल मेनारिया एवं परिवार ने बताया गुरूवार का आयोजन खास ओधी के महाराज प्रयाग गिरीजी के सान्निध्य में शुरू हुआ। रोजाना भागवत कथा 01 अगस्त तक प्रतिदिन दोपहर 2 से शाम 6 बजे तक होगी। 2 अगस्त को सुबह 9 से 1 बजे पूर्णाहुति के साथ कथा समाप्त होगी।

Related posts:

The 'Vyapaar ka Tyohaar' program by Flipkart Marketplace is aimed at fostering entrepreneurial oppor...
Women of Zinc – The Galvanizing Force Behind Hindustan Zinc
शिक्षा, स्वास्थ्य और संस्कृति में विश्वव्यापी पहचान लिये डॉ. चिन्मय पंड्या
सत्य और अहिंसा से ही मानव कल्याण संभवः मुख्यमंत्री
इंदिरा गांधी गैस सिलेण्डर सब्सिडी योजना के लाभार्थियों से संवाद
इम्पीरियल ब्लू सुपरहिट नाइट्स में हास्य और संगीत का अनूठा ताल-मेल प्रस्तुत करेगा
राजस्थान के पहले शोल्डर केडेवरीक ओर्थोप्लासी कोर्स का पिम्स उदयपुर में सफल आयोजन
आम आदमी पार्टी की कार्यकारिणी का विस्तार
साह पॉलीमर्स लि. का आरंभिक सार्वजनिक प्रस्ताव 30 दिसंबर को खुलेगा
Tata Motors joins hands with HDFC Bank for Electric Vehicle Dealer Financing Program
जिंक स्मेल्टर देबारी एवं जावर ग्रुप ऑफ माइंस द्वारा सखी उत्सव का आयोजन
क्षेत्रीय रेल प्रशिक्षण संस्थान में अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योग सत्र का आयोजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *