भोजन से पहले गाय को रोटी दें : जगदीश गोपाल

उदयपुर। गोभक्त-ग्वाल संत जगदीश गोपालानंद सरस्वती महाराज ने कहा कि पीडि़तों एवं दिव्यांगों की सेवा करना ईश्वर के अनुष्ठान के समान है। वे गुरुवार को नारायण सेवा संस्थान के हिरण मगरी सेक्टर 4 स्थित नि:शुल्क अस्थि शल्य चिकित्सा हॉस्पिटल के मानव मंदिर परिसर में बोल रहे थे। उन्होंने अपनी 31 वर्षीय गो-पर्यावरण एवं आध्यात्म चेतना पदयात्रा का जिक्र करते हुए कहा कि 4 दिसम्बर 2012 में हल्दीघाटी से शुरू इस यात्रा का 2043 में समापन होगा। उन्होंने भोजन से पहले पहली रोटी गो माता को देने का आह्वान करते हुए गो पालन से होने वाले लाभों की जानकारी दी। उन्होंने संस्थान में नि:शुल्क सर्जरी के लिये आये जन्मजात दिव्यांग एवं पूर्व पोलियो ग्रस्त किशोर-किशोरियों की कुशलक्षेम पूछी और कहा कि दिव्यांगों को उनके पैर पर खड़ा करना सचमुच ईश्वरीय कार्य है। इस दौरान महाराज ने दिव्यांगों को कृत्रिम हाथ पैर व कैलिपर भी प्रदान किये।
संस्थापक पद्मश्री कैलाश मानव ने संत का स्वागत करते हुए कहा कि महाराज की गो-पर्यावरण एवं अध्यात्म चेतना यात्रा से मानव समाज को सार्थक दिशा मिलेगी। प्रवचन सभा में सह संस्थापिका कमला देवी, निदेशक वंदना अग्रवाल, भगवान प्रसाद गौड़, दल्लाराम पटेल, कुलदीपसिंह शेखावत, डॉ मानसरंजन साहू भी उपस्थित रहे। संचालन महिम जैन ने किया।

Related posts:

रक्तदान शिविर 11 को
जिंक द्वारा किशोर मूक बधिर बालिकाओं के लिए मासिक धर्म स्वास्थ्य और स्वच्छता पर जागरूकता सत्र
हिन्दुस्तान जिंक द्वारा शिक्षा संबल समर कैम्प का समापन
कावड़ निर्माता मांगीलाल मिस्त्री नहीं रहे
हिंदुस्तान जिंक ने लगातार तीसरे वर्ष सभी स्थानों पर मनाया नो व्हीकल डे
कोटक सिक्योरिटीज ने लॉन्च किया ट्रेड फ्री प्रो प्लान
Hindustan Zinc kickstartsShiksha Sambal Summer Camps for over 1500 rural & tribal students
सरपंच 3 लाख 15 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार
हिन्दुस्तान जिंक द्वारा ड्रोन तकनीक से जावरमाला खदान के दुर्गम क्षेत्रों का सर्वेक्षण
वेदांता ने ट्रांसजेंडरों के लिए अपनाई अनूठी समावेशन नीति
नि:शुल्क मोबाइल रिपेयरिंग प्रशिक्षण का समापन
एचडीएफसी बैंक ने इंटरनेशनल फ्रॉड अवेयरनेस वीक 2022 मनाया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *