हम हैं भारत के भाग्य विधाता

डॉ.कान्तिलाल यादव
मत दो मत उसको जो करते राष्ट्र का विनाश है।
स्वच्छ लोकतंत्र के खातिर ईमान ही विश्वास है।
देश की तकदीर यदि बदलनी हो तो,
सच्चे सेवक को चुनना होगा।
बदलेगी तस्वीर एक दिन
देश की जरूर,
मतदान सोच समझकर करना होगा।
मत दो मत उसको जो देते जनता को धोखा।
फिर क्यों उसे देते हो बार-बार मौका?
सच्चे इंसान को चुनोगे।
तभी अच्छे राष्ट्र को बुनोगे।
रखना अपने ईमान को जिंदा।
फिर नहीं करनी पड़ेगी
अपने नेता की कभी निंदा।
सोचो, समझो और तोलो।
अपने मत के साथ बोलो।
हम हैं भारत के भाग्य विधाता।
हम भारत के लोकतंत्र के मतदाता।
जनमत है हमारा अधिकार,
फिर क्यों करें हम मत देने से इनकार?
रखना कर्तव्यों को जरा संभाल कर।
ज़रा पहचानो अपने अधिकारों का प्रयोग कर।

Related posts:

साध्वीश्री डॉ परमप्रभा, विनीत प्रभा, श्रेयस प्रभा एवं प्रेक्षा प्रभा आदि ठाणा 4 का चातुर्मास हेतु मं...
हिन्दुस्तान जिंक का एंटरप्राइज रिस्क मैनेजमेंट सिस्टम आईएसओ 31000 :2018 से प्रमाणित
Women of Zinc – The Galvanizing Force Behind Hindustan Zinc
भारत की अपनी इलेक्ट्रिक एसयूवी नेक्‍सॉन ईवी ‘सबसे तेज’ के2के ड्राइव का रिकॉर्ड बनाने के लिये तैयार
उदयपुर की ताज अरावली रिसोर्ट को पट्टा देने के मामले में एसीबी में मामला दर्ज
Bajaj Finserv Asset Management Introduces Bajaj Finserv Large and MidCap Fund
नारायण सेवा का 38वां सामूहिक विवाह 28 से
एचडीएफसी बैंक ने विशेष भर्ती प्रोग्राम के तहत नई भर्तियों की शुरुआत की
ओसवाल सभा की कार्यपरिषद की प्रथम बैठक में लिए महत्वपूर्ण निर्णय
Hindustan Zinc’s Zawar Group of Mines host one day Technical Workshop on Ground control of Undergrou...
उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने 365 आदर्श आंगनबाड़ी बनाने की दी स्वीकृति
दर्शन दंत महाविद्यालय एवं अस्पताल में ओरल मेडिसिन एवं रेडियोलोजी दिवस मनाया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *