जेटीएन का राष्ट्रीय अधिवेशन

उदयपुर। अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद के सोशियल मीडिया प्रचार प्रसार उपक्रम जेटीएन का षष्ठम प्रतिनिधि सम्मेलन आचार्यश्री महाश्रमण के सानिध्य में आयोजित हुआ। आचार्यश्री महाश्रमण ने प्रेरणा पाथेय प्रदान करते हुए कहा कि जेटीएन तेरापंथ धर्मसंघ का सोशल मीडिया में प्रचार प्रसार करने वाला कल्याण परिषद से मान्यता प्राप्त, विश्वसनीय एवं अधिकृत उपक्रम है। ऐसा प्रतीत होता है की जेटीएन से निकली सामग्री प्रमाणिक होती है।
अभातेयुप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंकज डागा की अध्यक्षता में आयोजित अधिवेशन में उपाध्यक्ष जयेश मेहता, महामंत्री पवन मांडोत, संगठन मंत्री श्रेयांश कोठारी, जेटीएन कार्यकारी संपादक अभिषेक पोखरना ने देशभर से आए प्रतिनिधियों का स्वागत कर जेटीएन पिन एवं अधिवेशन किट प्रदान किया। दो दिवसीय अधिवेशन में वर्षभर के कार्यों के बार में जानकारी दी गई एवं भविष्य की योजनाओं पर चर्चा की गई।


जेटीएन के कार्यकारी संपादक अभिषेक पोखरना ने बताया कि पहले दिन आचार्यश्री महाश्रमण के सान्निध्य में मंचीय कार्यक्रम, पर्यवेक्षक मुनि योगेश कुमार एवं मुनि नय कुमार द्वारा सभी प्रतिनिधियों को उत्साहवर्धक प्रेरणा, डिजिटल मार्केटिंग पर राशिका द्वारा प्रशिक्षण एवं भक्ति संध्या में प्रसिद्ध गायक पंकज भंडारी ने भक्ति गीतों से लोगों को आनंदित किया। दूसरे दिन भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर चेतन जैन, प्रसिद्ध मोटिवेशनल स्पीकर नीलेश संचेती ने प्रतिनिधियों को ‘कैसे बने विशिष्ट कार्यकर्ता’ पर वक्तव्य एवं नरेश जांगिड़ ने ग्राफिक डिज़ाइन पर प्रशिक्षण दिया।
अधिवेशन में देशभर के 70 से अधिक प्रतिनिधियों ने भाग लिया जिनका प्रशस्ति पत्र से सम्मान किया गया। जेटीएन विशेषकर तेरापंथ धर्मसंघ के केंद्रीय सूचनाओं के साथ-साथ देश-विदेश में पदयात्रा करने वाले साधु-साध्वियों, समणियों के विशेष प्रवचनों, विभिन्न क्षेत्रों में आयोजित संघीय कार्यक्रमों का ऑनलाइन माध्यम से प्रचार प्रसार करता है। यह तेरापंथ धर्मसंघ का अधिकृत एवं विश्वसनीय सोशल मीडिया उपक्रम है। अधिवेशन का आयोजन तेरापंथ युवक परिषद सरदारपुरा ने किया। परिषद के अध्यक्ष महावीर चोपड़ा, मंत्री निर्मल छल्लाणी, संयोजक नरेंद्र सेठिया के नेतृत्व में कई युवक अधिवेशन को सफल बनाने में रात दिन जुटे रहे। अधिवेशन के विभिन्न सत्रों का संचालन संजय वैद मेहता, पवन फूलफगर, नोरतन ओसवाल, जयंत सेठिया, मीनाक्षी सुराणा, करुणा कोठारी, मोनिका चोरडिय़ा ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *