आचार्य भिक्षु एक महान प्रबंधक थे: साध्वी डॉ. परमप्रभा

उदयपुर। तेरापंथ धर्मसंघ के आध्य प्रवर्तक आचार्य भिक्षु (Acharya Bhikshu) के 298वें जन्मोत्सव एवं 266वें बोधिदिवस पर आचार्य महाश्रमण की विदुषी साध्वी डॉ. परम प्रभा (Dr. Param Prabha) ने कहा कि आचार्य भिक्षु क्रान्तिकारी संत थे। उन्होंने सत्य की खोज के लिए तेरापंथ की स्थापना की एवं अपने संघ के साथ नई राह पर चल पड़े और आज जो विशाल एवं अनुशासित तेरापंथ धर्मसंघ देख रहे हैं उसका नेतृत्व एकादशम आचार्य महाश्रमण (Acharya Mahashraman) कर रहे हैं वह उन्ही आचार्य भिक्षु की देन है।


महामना आचार्य भिक्षु जन्मोत्सव कार्यक्रम का आगाज साध्वीजी द्वारा नवकार मंत्र के जप से शुरू हुआ। महिला मंडल एवं कन्या मंडल द्वारा मंगलाचरण किया गया। कुसुम पोरवाल, सीमा पोरवाल एवं साध्वीश्री प्रेक्षा ने गीतिका द्वारा अभिवन्दना की। इस अवसर पर तेयुप अध्यक्ष विक्रम पगारिया, महिला मंडल अध्यक्षा सीमा बाबेल एवं तेरापंथ सभा अध्यक्ष अर्जुन खोखावत ने भी अपने विचारों की अभिव्यक्ति दी। संचालन सभा मंत्री विनोद कच्छारा ने किया।

Related posts:

‘जीरो टोलरेन्स की नीति’ संवाद कार्यक्रम आयोजित
होली चातुर्मास व साध्वीप्रमुखा का प्रथम महाप्रयाण दिवस कल
HKG Ltd on a Growth Path
Hindustan Zinc Plants more than 4,500 Saplings around its Business Locations
जेके पेपर कंपनी दोहराएगी पर्यावरण संरक्षण का संकल्प
महिलाएं आज किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं : राज्यपाल कटारिया
जीवन रतन मार्डन स्कूल ने मनाया वार्षिकोत्सव
निःशुल्क दिव्यांग एवं निर्धन सामूहिक विवाह 10-11 फरवरी को
पानेरियों की मादड़ी में रसमयी श्रीमद् भागवत शुरू
नारायण सेवा में दिव्यांगों और साधकों ने किया गुरु पूजन
सयाजी इंदौर ने उदयपुर में आयोजित सबसे बड़े ओडीसी इवेन्ट में आतिथ्य सेवा प्रदान की
हिन्दुस्तान जिंक द्वारा जावर में सीएसआर के तहत् होगें जीर्णाेद्धार और निर्माण कार्य

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *