आईआईआरएफ की रैंकिंग में विद्यापीठ राजस्थान में दूसरे, राष्ट्रीय स्तर पर 37वें पायदान पर

उदयपुर : इंडियन इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क – आईआईआरएफ द्वारा 2024 की डीम्ड विश्वविद्यालयों की रैंकिंग  में जनार्दनराय नागर राजस्थान विद्यापीठ (डीम्ड टू बी विश्वविद्यालय) ने  राजस्थान में दूसरे व देश में 37वां स्थान प्राप्त कर उत्कृष्टता के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को एक बार फिर साबित किया है। आईआईआरएफ की ओर से जारी वर्ष 2024 की रैंकिंग में विभिन्न श्रेणियों यथा केंद्रीय, राज्य, निजी और डीम्ड में 1161 विश्वविद्यालयों को रैंक दिए गए।

कुलपति प्रो. कर्नल एस.एस. सारंगदेवोत ने कहा कि इस वर्ष की दूसरी उल्लेखनीय रैंक उच्च गुणवत्ता की शिक्षा प्रदान करने, नवीन शोध को बढ़ावा देने और अपने विद्यार्थियों के बीच समग्र विकास को बढ़ावा देने के लिए विद्यापीठ के समर्पण को उजागर करती है। यह रैंकिंग हमारे संकाय सदस्यों, विद्यार्थियों और प्रशासनिक कार्यकर्ताओं की कड़ी मेहनत, समर्पण और उत्कृष्टता का प्रमाण है। यह अकादमिक और शोध उत्कृष्टता के प्रति हमारी अटूट प्रतिबद्धता को दर्शाता है। यह रैंकिंग विद्यापीठ के समाज के प्रति दायित्व को भी बढ़ा रही है और यह सम्मानित रैंक प्राप्त कर विद्यापीठ और अधिक ऊंचाइयों के लिए प्रयास करना जारी रखेगा और समाज में महत्वपूर्ण योगदान देगा।

1937 में स्थापित इस संस्था ने अपने स्थापना काल से ही मील के पत्थर स्थापित किये हैं। विश्वविद्यालय में अत्याधुनिक सुविधाएं, पुस्तकालय, प्रयोगशालाएं और अन्य संसाधन हैं जो शिक्षण और शोध के अनुभव को समृद्ध करते हैं। विद्यापीठ सामुदायिक सेवा और सामाजिक जिम्मेदारी के लिए गहराई से प्रतिबद्ध है और समाज पर सकारात्मक प्रभाव डालने की संस्कृति को बढ़ावा देता रहा है। यह सब समर्पित व निष्ठावान कार्यकर्ताओं की ही बदौलत हो पाया है।

रजिस्ट्रार डॉ. तरुण श्रीमाली ने कहा कि यह उपलब्धि न केवल विश्वविद्यालय के पिछले प्रयासों का प्रतिबिंब है, बल्कि भविष्य हेतु एक वचन भी है। विद्यापीठ अपने सभी प्रयासों व कार्यों में निरंतर सुधार और नवाचार के लिए समर्पित है, यह सुनिश्चित करते हुए कि यह भारत में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में आगे रहे।  विवि अब नैक की सर्वोत्तम ग्रेड की ओर भी तेजी से अग्रसर है।

रैंकिंग कार्यों के नोडल अधिकारी डॉ. चन्द्रेश कुमार छतलानी ने बताया कि उक्त रैंकिंग में  7 पैरामीटर्स को आधार बनाकर देश की टॉप यूनिवर्सिटी की लिस्ट तैयार की है, जो भारतीय सामाजिक, आर्थिक और औद्योगिक पैमाने पर केंद्रित है। इसमें टीचिंग लर्निंग रिसोर्सेस एंड पेडागोजी, रिसर्च, इंडस्ट्री इनकम व इंटीग्रेशन, प्लेसमेंट परफॉरमेंस, प्लेसमेंट स्ट्रैटेजी एंड सपोर्ट, फ्यूचर ओरिएंटेशन, एक्सटर्नल परसेप्शन व इंटरनेशनल आउटलुक शामिल हैं। पिछली बार की रैंकिंग में विद्यापीठ ने देश में 48वां स्थान प्राप्त किया था और इस बार 37वें स्थान पर आना विश्वविद्यालय की बढ़ती हुई गुणवत्ता का द्योतक है।

आईआईआरएफ के अनुसार विद्यापीठ सहित मुख्य विश्वविद्यालय भारत में उच्च शिक्षा के सबसे प्रमुख स्रोत हैं, जहां विद्यार्थी शैक्षणिक कार्यक्रमों के विभिन्न स्तरों पर अपने वांछित पाठ्यक्रम और विशेषज्ञता का अध्ययन कर सकने के साथ साथ अपने व्यक्तित्व का समग्र विकास कर सकते हैं।

इससे पूर्व एजुकेशनल परफॉर्मेंस स्टेटिस्टिक्स इन इंडिया 2024 की रैंकिंग में जनार्दनराय नागर राजस्थान विद्यापीठ को देश में 32वां, आईआईआरएफ की रैंकिंग 2023 में प्रदेश में प्रथम तथा इम्पैक्ट रैंकिंग में राजस्थान में द्वितीय स्थान प्राप्त हुआ था। यूनी रेंक द्वारा कराये गये सर्वे में भी विद्यापीठ ने उदयपुर में पहला स्थान प्राप्त किया था। यह जानकारी निजी सचिव कृष्णकांत कुमावत ने दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *