चितरी, बडग़ी, गलियाकोट सहित 11 गाँवों के 6000 परिवारों को शुद्ध पेयजल पहुँचाने की योजना को मिली मंज़ूरी

उदयपुर। चितरी, बडग़ी, गलियाकोट सहित 11 गाँवों के करीब 6000 परिवारों को शुद्ध पेयजल पहुँचाने की योजना को मंज़ूरी मिल गई है। पूर्व राज्यमंत्री दिनेश खोड़निया (Dinesh Khodnia) ने बताया कि कांग्रेस राज में जिले भर के कई गांवों को पेयजल योजना से जोड़ा गया है। कांग्रेस सरकार में गणेशोत्सव पर वागड़ की अभी 11 गांवों की पेयजल योजना को वित्तीय मंज़ूरी दे दी है। जल्द ही वर्क ऑर्डर जारी होकर कार्य शुरू हो जायेगा। लंबे समय से इन गांवों में शुद्ध पेयजल नहीं मिल पा रहा था। अब इन गांवों को सिलोही में लगे फि़ल्टर प्लांट से जोड़ा जाएगा जहाँ से शुद्ध पेयजल घर तक पहुंचाया जाएगा।
खोड़निया ने बताया कि यहाँ के जनप्रतिनिधि और ग्रामीण लंबे समय से पेयजल सप्लाई की मांग कर रहे थे। इसके बाद प्रस्ताव बनाकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को दिया गया था। मुख्यमंत्री ने अपने बजट में इन गांवों को शुद्ध पेयजल योजना से जोडऩे की घोषणा की थी। इस पूरे कार्य पर करीब 23 करोड़ रूपये खर्च होंगे। खोड़निया ने बताया कि सागवाड़ा शहर में घर घर तक पेयजल पहुँचाने के लिए 119 करोड़ ख़र्च कर काम किया जा रहा है।
दिनेश खोडनिया ने बताया कि 11 गांवों में पानी की समस्या नहीं होगी। इस गाँव में पानी पहुँचाने के लिए अलग अलग जगहों पर 9 टंकियाँ बनायी जाएंगी जहाँ से गांवों तक पानी की सप्लाई की जाएगी। इन टंकियों से घर-घर तक पानी पहुँचाने के लिए 160 किमी पाइप लाइन डाली जाएगी। जलदाय विभाग की ओर से इसकी पूरी प्लानिंग कर ली गई है। खोड़निया ने बताया कि चितरी, बडग़ी, गड़ाझसराजपुर, पारड़ा माताजी, उदैया, सिलोही, भेमई, गलियाकोट, जुतलाई, वणियाप और नवाधरा माताजी को पेयजल योजना से जोड़ा जा रहा है। खोडनिया ने बताया कि अब तक घाटा का गाँव, विराट और वांदरवेड में घर घर तक पानी पहुंचाने का काम पुरा हो गया है साथ ही गलियाकोट ब्लाक के जोगपुर, दीवड़ा बड़ा, अंबाड़ा और नाकाफला गांवों के लिये वर्क आर्डर जारी हो गये हैं। यहां 9 करोड़ रुपये खर्च कर शुद्ध पेयजल घर घर तक पहुंचाया जाएगा। सागवाडा ब्लाक के 10 गाँवों में पानी पहुंचाने का काम भी शुरू हो जायेगा। इस कार्य पर करीब 19 करोड़ रुपये खर्च होंगे। पादरड़ी बड़ी, कंडुला, वमसा, बिजावाड़ा, डोला, बर्बोदानिया, कानेला, डेचा, पारड़ा मेहता, पादरा में शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाने हेतु जो योजनाये बनाई गई थी। उनका वर्क आर्डर आज प्राप्त हो गया है। इन गाँवों में ही कुएँ खोद कर घर-घर पानी पहुंचाया जायेगा।

Related posts:

सुविवि दीक्षांत समारोह में 187 को पीएचडी की डिग्री व 107 को गोल्ड मेडल
Paras Healthcare Forays in Udaipur with its Healthcare Services
टैफे – Be a #FarmDost अभियान की ‘100 फार्मर्स. 100 स्टोरिज़’ फ़ोटो और वीडियो स्टोरी प्रतियोगिता शुरू
गीतांजली में “सुपर-रिफ्रैक्टरी स्टेटस एपिलेप्टिकस” का निःशुल्क इलाज
मुख्यमंत्री की पहल पर निराश्रित बच्चों ने हर्षोल्लास से मनाई दिवाली
भारत वर्ष 2022 -23  में  रिकॉर्ड  सरसों  का  उत्पादन करेगा - एसईए
चणबोरा में बांटे राशन किट
अपनी दरों में फिलहाल कटौती शुरू नहीं करेगा रिज़र्व बैंक : बरूआ
Five units of Hindustan Zinc conferred with 26th Bhamashah Award for its exemplary contribution in e...
Vedanta Spark ties up with CII’s Centre of Excellence for Innovation, Entrepreneurship & Startups pr...
पिम्स हॉस्पिटल, उमरड़ा में गले की गांठ का सफल ऑपरेशन
एचडीएफसी बैंक ने शुरू की ‘ऑफलाइनपे’ सेवा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *